इसने साबरमती ट्रेन में छिड़का था पेट्रोल 14 साल बाद पकड़ा गया

भूपेंद्र सिंह, अहमदाबाद (13 जुलाई): गुजरात क्राइम ब्रांच ने कई सालों की मेहनत के बाद उस शख्स को गिरफ्तार कर लिया है, जिसने साबरमती ट्रेन को रोककर उसके एक कोच में पेट्रोल छिड़का था। 14 साल से फरार इमरान उर्फ़ शेखू को मालेगांव से गिरफ्तार किया गया।

14 साल से फरार साबरमती ट्रेन के एस 6 कोच में पेट्रोल छिड़कने वाले इमरान उर्फ़ शेखू को अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने मालेगांव से गिरफ्तार किया। इमरान वहां खनन का काम करता था। पुलिस के मुताबिक इमरान ने ही ड्रम में 160 लीटर पेट्रोल भरकर एस 6 कोच के वेस्टिबल को कट किया था और फिर पूरे कोच में पेट्रोल छिड़का था, जिसके बाद कोच को आग लगा दी गई थी। इमरान के साथ सहयोगियों ने बाहर से खिड़की के जरिए कोच में रूई और कपडे ड़ाले थे, जिससे आग और भड़क सके।

इमरान की सिम डिटेल के अलावा पुलिस के पास उसतक पहुंचने का कोई रास्ता नहीं था, लेकिन पुलिस लगातार उसकी तलाश में छानबीन कर रही थी। पिछले महीने गिरफ्तार किए गए फारूक भाणा से पूछताछ में पुलिस को उसके बारे में कई अहम जानकारिया मिली थी। पुलिस को पता चला था कि इमरान मालेगांव धुलिया या फिर नासिक में है, जिसके बाद से उसकी तलाश और तेज कर दी गई थी। गोधरा कांड मामले में पुलिस ने 94 आरोपियों को पकड़ा था, जिसमें से 31 को सजा सुनवाई जा चुकी है। इमरान की ट्रेन जलाने में अहम भूमिका थी।