4.40 करोड़ की लागत से बना पुल केवल 3 साल में धराशाई



न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (10 दिसंबर): झारखंड के गोड्डा में पथरगामा प्रखण्ड क्षेत्र के कोरका के रास्ते बिहार को जोड़ने वाला एक मात्र पुल बीती रात धरासाई हो गया है ।जिसमे दो ट्रक दुर्घटनाग्रस्त हो गया है हालांकि ट्रक ड्राइवर और खलासी बाल बाल बच बगया है ।ट्रक ड्राइवर ने बताया कि रात के अंधेरे में रास्ता भटक कर हमलोग इस पुल पर आ गए थे जबकि हमलोग को गोड्डा से चलकर भागलपुर के रास्ते पूर्णिया जाना था पहले से दो गाड़ी पुल पर भटक कर खड़ी थी जब तीसरी गाड़ी पुल से क्रॉस कर रहे थे तो अचानक पुल धंस गया ।ट्रक में रंग पेंट का डब्बा भरा है जो गोड्डा से पूर्णिया जाने के लिए आ रही थी, लेकिन रास्ता भटकने के कारण पकड़िया के रास्ते पुल पर जा फंसी।



दिव्या कंस्ट्रक्शन कंपनी ने किया था काम


4करोड़ 40लाख 48 हजार 936 रुपये की लागत से बना यह पुल का कार्य मेसर्स दिव्या कंस्ट्रक्शन रामनगर गोड्डा की कंपनी के द्वारा किया गया था ।जिसकी प्रोपराइटर पूनम देवी हैं।कनीय अभियंता महेंद्र तिवारी के दिशा निर्देश पर इस काम को  किया गया था ।


11/10/2014 तारीख को इस पुल का एग्रीमेंट किया गया था ,कम्पनी ने पुल के कार्य को समाप्त कर 29/3/16 को ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल विभाग के पास बिल पुटअप किया था जबकि कंपनी को फाइनल बिल का भुगतान 4 करोड़ 38 लाख 550 रुपया का भुगतान 13/7/16 को हुआ है ।इकरार नामे के अनुसार 10/4/16 को कार्य फाइनल करना था जबकि कंपनी ने कार्य एक महीने पहले ही फाइनल कर दिया था ।6 पिलर पर खड़ा यह पुल महज तीन वर्ष में ही धरासाई हो गया ।बताया जा रहा दिव्या कंस्ट्रक्शन कंपनी पूर्व विधायक संजय प्रसाद यादव के रिश्तेदार का है ।इस तरह पुल के छतिग्रस्त हो जाने पर ग्रामीणों में भी काफी रोष है।




झारखण्ड से बिहार के 8 गांवों को जोड़ने वाला एक मात्र जरिया था पुल।


स्थानीय ग्रामीणों ने बताया कि यह पुल झरखंड के कई गांवों एवं बिहार के रास्ते का मुख्य मार्ग था इस रास्ते से होकर लोग पकड़िया,हिलाबय, बनरचुहा,लटन पकड़िया,बिरनियाँ गचिया,चनायचक,कुर्मा,बेलडीहा,के रास्ते बिहार के कई गांवों तक का सफ़र करते थे ।


पुल के गुणवत्ता पर उठ रहे सवाल


ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल गोड्डा द्वारा बनवाये गए यह पुल महज ढाई वर्षों में ही धरासाई हो गया ,करोड़ो की लागत से बना 6 पिलर पर खड़ा यह पुल धरासाई हो जाने के बाद आस पड़ोस के ग्रामीणों में काफी रोष है ग्रामीणों का कहना है कि यह पुल ठीकेदारी और लूट खसोट का भेंट चढ़ गया है,पुल बनने के समय भी इसके गुणवत्ता पर विरोध जताया गया था लेकिन बावजूद इसके काम पर ध्यान नही दिया गया ग्रामीणों ने बताया कि विभागी लूट खसोट एवं ठेकेदार की मिलीभगत का प्रत्यक्ष नमूना है ये पुल।



नदी के रास्ते स्कूली बच्चों एवं ग्रामीणों को जाना पड़ रहा पुल के उस ओर।


पुल के धरासाई होने के बाद ग्रामीणों एवं स्कूली बच्चों को काफी तकलीफों का सामना करना पड़ रहा है ,अब लोगों को नदी के रास्ते से आवागमन करना पड़ रहा है ,पुल टूट जाने के कारण स्कूली बच्चों को भी स्कूल जाने में कठनाइयों का सामना करना पड़ रहा है स्कूली बच्चे भी नदी में उतरकर अपने स्कूल की ओर जा रहे हैं ऐसे में ग्रामीण को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है ।
पुल में जमीन देने वाले जमीन दाता को भी नही मिला है मुआवजा।


इस पुल के निर्माण में जमीन देने वाले शिरोमणि पूर्वे बताते हैं कि हमने 6 कट्ठा जमीन दिया है इस पुल में जबकि अबतक मुझे जमीन का कोई मुआवजा नही मिला है और पुल आज   धंस गया है ।वो आगे बताते हैं कि मैंने पूर्व में काम को लेकर विरोध किया था कहा था कि इतने बड़े पुल की कोई आवश्यकता नही है,छोटा पुल से ही काम चल जाएगा लेकिन किसी ने मेरी बात न सुनी और न ही कोई मुआवजा मुझे मिला ।




दिव्या कंस्ट्रक्शन कंपनी के द्वारा कोई जवाब नही



कम्पनी का ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल कार्यालय में दिए गए नम्बर पर कॉल करके जब हमने उनका पक्ष जानना चाहा तो बिना कोई उत्तर दिए रौंग नम्बर बोलकर फोन काट दिया गया ।
गोड्डा सांसद ने दी तीखी प्रतिक्रिया पथरगामा प्रखण्ड अंतर्गत कोरका/पकड़िया पुल महज तीन वर्षों में ही धरासाई हो गया करोड़ों की लागत से बना यह पुल दिव्या कंस्ट्रक्शन ने बनवाया था ।पुल इस कदर धरासाई हुआ जिसमें बीच पुल पर ही ट्रक भी दुर्घटना का शिकार हो गया है ।हालांकि किसी जान की हताहत की खबर नही है ।जिसपर सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने तीखी प्रतिक्रिया दी है उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट पर पूर्व विधायक संजय यादव को आड़े हाथों लिया है उन्होंने लिखा है ।
 
विधायक यादव बंधुओं के ठेकेदारों का परिणाम, कमीशन व गुंडा गर्दी का ख़ूबसूरत नमूना । गोड्डा के पूर्व विधायक संजय यादव जी के भाई वकील यादव की पत्नी दिव्या कन्स्ट्रक्शन्स का काम।गोड्डा जिला अंतर्गत पथरगामा प्रखंड के कोरका/पकड़िया के बीच 3 साल पूर्व बना पुल आज ध्वस्त हो गया जिसमें एक हाईवा भी फस गया है । मेरे शिकायत के बाद सब कुछ मैनेज हो गया व इंजीनियर का प्रमोशन हो गया।



कंस्ट्रक्शन कंपनी के कार्यों की होगी सीबीआई जांच :डॉ. निशिकांत दुबे





गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे ने पुल छतिग्रस्त होने के बाद अपने फेसबुक वॉल से तीखी प्रतिक्रिया दी जिसके बाद हमने सांसद डॉ निशिकांत दुबे से इस सम्बंध में जानकारी मांगी तो उन्होंने कहा कि गोड्डा शुरू से ही लूट का अड्डा बना हुआ है जहां पदाधिकारी सिर्फ लूट के लिए अपना तबादला करना चाहते हैं यहां कई नेताओं के रिश्तेदारों की पत्नी के नाम के कंस्ट्रक्शन कंपनी है एवं कई सरकारी कर्मी रहते हुए भी पत्नी के नाम कंस्ट्रक्शन कंपनी चला रहे हैं ऐसे सभी नेताओं की आड़ में चलने वाली कंस्ट्रक्शन कंपनी के कार्यों की सीबीआई जांच की जाएगी ।
इस मुद्दे पर गोड्डा की उपायुक्त किरण कुमारी पासी ने कहा कि पूल के टूटने की जाँच होगी एवम संवेदक एवम इंजीनियर पर विभागीय कार्रवाई की जाएगी।