बुधवार को गोवा विधानसभा में अपना बहुमत साबित करेंगे सीएम प्रमोद सावंत

न्यूज 24 ब्यूरो नई दिल्ली, (19 मार्च): गोवा में सोमवार देर रात नई सरकार गठित होने के एक दिन बाद बुधवार को राज्य विधानसभा में सरकार का शक्ति परीक्षण होगा। एक अधिकारी ने बताया कि राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने शक्ति परीक्षण सम्पन्न कराने के लिए सुबह 11 बजे विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया है। सदन में मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत अपनी सरकार का बहुमत साबित करेंगे। मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार ने बुधवार को सदन में शक्ति परीक्षण करवाने के लिए कहा है ताकि वह अपना बहुमत साबित कर सके।

गोवा की 40 सदस्यीय विधानसभा की वास्तविक संख्या घटकर 36 रह गयी है क्योंकि मनोहर पर्रिकर और बीजेपी विधायक फ्रांसिस डिसूजा का निधन हो गया और कांग्रेस के दो विधायक सुभाष शिरोडकर एवं दयानन्द सोप्ते ने त्यागपत्र दे दिया था। गोवा में कांग्रेस 14 विधायकों के साथ सबसे बड़ी पार्टी है जबकि NCP का भी एक विधायक है।

गौरतलब है कि गोवा में बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार ने 21 विधायकों का समर्थन होने का दावा किया है। इनमें बीजेपी के 12 और सहयोगी दल गोवा फारवर्ड पार्टी (जीएफपी) एवं महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) के तीन-तीन और तीन निर्दलीय विधायक शामिल हैं। गोवा की 40 सदस्यीय विधानसभा की वास्तविक संख्या घटकर 36 रह गई है क्योंकि मनोहर पर्रिकर और बीजेपी विधायक फ्रांसिस डिसूजा का निधन हो गया है। इसके अलावा कांग्रेस के दो विधायक सुभाष शिरोडकर और दयानन्द सोप्ते ने इस्तीफा दे दिया था।  
गोवा में कांग्रेस 14 विधायकों के साथ सबसे बड़ी पार्टी है जबकि नैशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) का भी एक विधायक है। प्रमोद सावंत (45) को सोमवार काफी देर रात में 11 मंत्रियों के साथ शपथ दिलवाई गई थी। उन्होंने मनोहर पर्रिकर का स्थान लिया है, जिनका अग्नाशय कैंसर के कारण रविवार को निधन हो गया था। उन्होंने कहा कि पर्रिकर द्वारा शुरू की गई परियोजनाओं को पूरा करना उनकी प्राथमिकता है। उन्होंने यह भी कहा कि राज्य सरकार मीरामार तट पर पर्रिकर के नाम से उस स्थान पर स्मारक बनवाएगी, जहां उनका अंतिम संस्कार किया गया था।