बीजेपी नेता के भतीजे की छेड़खानी से तंग आकर छोड़ी पढ़ाई

नरिंदर, पलवल (20 जून): सरकार संदेश देती है बेटी पढ़ाओ, बेटी बढ़ाओ लेकिन हकीकत ये है कि उसी सरकार की सत्ता वाले हरियाणा के पलवल में छेड़छाड़ से तंग आकर दो बेटियों को पढ़ाई छोड़नी पड़ रही है। गौर करने वाली बात ये है कि छेड़छाड़ का आरोप स्थानीय बीजेपी नेता के भतीजे पर है, लेकिन पुलिस ने अब तक कोई कार्रवाई नहीं की है।

दो बहने बीते एक करीब 15 दिनों से पुलिस थाने के चक्कर लगा रही हैं। पुलिस के अधिकारी इन लड़कियों को कार्रवाई का भरोसा देते हैं, लेकिन कार्रवाई करते नहीं है। आप सोच रहे होंगे कि आखिर मामला क्या है। दरअसल ये मामला बीजेपी की सरकार वाले सूबे हरियाणा में बीजेपी नेता के एक भतीजे की छेड़खानी और गुंडागर्दी का है, जिसकी शिकार ये दो लड़कियां हुई हैं।

दोनों लड़कियां कई महीनों से बीजेपी नेता के भतीजे की छेड़खानी को सह रही थी। करीब 15 दिन पहले आरोपी लड़के ने भरी बस में लड़कियों के साथ मारपीट भी की थी, क्योंकि लड़कियों ने छेड़खानी का विरोध किया था। इसके बाद से अब तक लड़कियां मंत्री से लेकर संतरी तक और एसएचओ से लेकर डीएसपी, एसपी तक से मिल चुकी है, लेकिन अभी तक रसूखदार आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

लड़कियों का पढ़ने जाना बंद हो चुका है। आरोपी की ओर लड़कियों के परिवार को धमकी मिल रही है और पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। हरियाणा की खट्टर सरकार बेटियों को पढ़ाने-बढ़ाने और और उनकी सुरक्षा का दावा करती है, जो सिर्फ दावा ही लगता है। क्योंकि पलवल में दो बेटियां इंसाफ की गुहार लगाती फिर रही है, लेकिन इनकी आवाज कोई नहीं सुन रहा है।