गर्लफ्रेंड की हेट स्टोरी: प्रेमी के कत्ल के बाद लाश के पास बैठकर मनाया जश्न

भोपाल (8 अप्रैल): मध्यप्रदेश के विदिशा में हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। जहां एक प्रेमिका ने ही अपने प्रेमी की हत्या की साजिश रची और कत्ल के बाद लाश के किनारे बैठकर कातिलों ने जश्न मनाया।

मामला मध्यप्रदेश के विदिशा का है, जहां पुलिस ने एक सनसनीखेज मर्डर का खुलासा किया है। 22 साल के गोपाल की निर्मम हत्या की जो कहानी सामने आई है, वो बेहद चौंकाने वाली है। हत्या का ताना-बाना बुनने वाला कोई और नहीं, ब्लकि गोपाल की ही प्रेमिका निकली। जिसने अपने एक और प्रेमी के साथ मिलकर पूरी वारदात को अंजाम दिया।

देखिए वीडियो

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=4hD1nxYu3N0[/embed]

दरअसल 19 साल की नेहा का गोपाल के साथ कई सालों से अफेयर था। सबकुछ ठीक चल रहा था, लेकिन कुछ माह पहले नेहा का अकरम नाम के एक दूसरे लड़के के साथ आंखें चार हो गई। अब नेहा दो नावों की सवारी कर रही थी। नेहा अकरम को छोडना नहीं चाहती थी और उसे मालूम था कि गोपाल उसे छोड़ेगा नहीं।

(इस कुएं से मिली थी गोपाल की लाश।)

इसके बाद गोपाल से पीछा छुड़ाने के लिए, गोपाल को हमेशा के लिए अपनी जिंदगी हटाने के लिए नेहा ने अकरम के साथ मिलकर उसके कत्ल की साजिश रची। अकरम का नौकर गोपाल को मीट की दुकान पर लेकर आया। इसके बाद गोपाल, अकरम और उसके नौकर ने मिलकर जमकर शराब पी। गोपाल शराब के नशे में डूब गया। मौका मुफीद था। अकरम ने नौकर के साथ मिलकर गोपाल को मौत के घाट उतार दिया।

इसके बाद हैवानियत का वो सच भी जान लीजिए, जो जानकर आपके पैरों तले जमीन खिसक जाएगी। मर्डर के बाद नेहा भी मौका ए वारदात पर पहुंची। इसके बाद अकरम, उसके नौकर और नेहा ने मिलकर लाश के पहलू में बैठकर जश्न मनाया। शराब के जाम आपस में टकराए गए और गोपाल की मौत की खुशियां मनाई गई।

गोपाल की हत्या 29 मार्च को ही कर दी गई थी। इसके बाद कातिल हसीना नेहा पुलिस और गोपाल के घरवालों को लगातार गुमराह भी करती रही। चूंकि गोपाल आखिरी बार अकरम के साथ देखा गया था। इसलिए पुलिस की जांच अकरम के इर्दगिर्द घूमती रही और आखिरकार अकरम ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

पुलिस ने हत्या के आरोप में अकरम और उसके नौकर को गिऱफ्तार कर लिया है। अब पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है, वहीं कत्ल की मास्टरमाइंड नेहा भी सलाखों के पीछे पहुंच चुकी है।