रैगिंग से तंग आकर युवती ने की खुदकुशी

श्रीधर, बुलढाणा (16 मार्च): महाराष्ट्र के बुलढाणा में रैगिंग ने बीएड फाइनल ईयर की एक छात्रा की जान ले ली। रैगिंग से परेशान छात्रा ने खुदकुशी से पहले लिखी चिट्ठी में इसके लिए कॉलेज की ही एक छात्रा और 5 छात्रों को जिम्मेदार ठहराया है।

छात्रा के पिता ने आरोपियों को फांसी देने की मांग की है। उसने मौत से पहले लिखी गई चिट्ठी में रैगिंग करने वाले 6 छात्र-छात्राओं के नाम का जिक्र करते हुए पुलिस से उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग भी की है। ताकि उसे इंसाफ मिल सके।

पुलिस ने इस सिलसिले में मामला दर्ज कर एक छात्रा समेत पांच आरोपियों को हिरासत में लेकर अपनी जांच शुरू कर दी है। परिवारवालों के मुताबिक भाग्यश्री कॉलेज की ओर से महाराष्ट्र दर्शन की ट्रिप पर गई थी। वहां से लौटने के बाद से वो बुझी-बुझी रहती थी। परिजनों के पूछने पर भी वो कुछ बता नहीं रही थी।

12 मार्च को बार-बार आवाज देने पर भी भाग्यश्री जब घर के अपने स्टडी रूम से बाहर नहीं निकली तो लोग खिड़की के पास पहुंचे। वहां से देखने पर वो फांसी से झूलती नजर आई। भाग्यश्री के पिता रामदास शिंगणे ने इस मामले में कॉलेज प्रशासन की जांच करने की भी मांग की है। अब उन्हें इंसाफ का इंतजार है।