जंगल में मिली मोगली गर्ल, जानवरों की तरह रहती और इंसानों को देख डर जाती


नई दिल्ली(6 अप्रैल): उत्तर प्रदेश के बहराइच में हजारों एकड़ में फैले घनघोर जंगल में पुलिस को ऐसी बच्ची मिली है जो जानवरों की तरह ही हरकतें करती है और उन्हीं की तरह आवाजें निकालती है। मोतीपुर पुलिस को रात्रि गश्त के दौरान जंगल से ऐसी लड़की मिली जो जानवरों के बीच रहती थी। उसे पुलिस के जवानों ने बंदरों के बीच से निकालकर जिला अस्पताल पहुंचाया जहां उसका इलाज किया जा रहा है।

- लड़की जंगल से नंगी अवस्था में बंदरों के बीच पायी गयी थी और वह इंसानों को देखकर भागती थी।


- यूपी 100 में तैनात एसआई सुरेश यादव गत 25 जनवरी को कतर्नियाघाट सैंचुरी के मोतीपुर रेंज में गश्त कर रहे थे।


- मोतीपुर थानाध्यक्ष राम अवतार यादव ने बताया की जब पुलिस टीम रेंज के खपरा वन चैकी के पास पहुंची तो जंगलों में बंदरों से घिरी एक निर्वस्त्र चार वर्षीय बच्ची दिखाई दी। निर्जन वन में बच्ची को देख पुलिसकर्मी दंग रह गए। एसआई सुरेश ने उसे साथ लेना चाहा तो बंदर विरोध पर उतर आये और चीखना शुरू कर दिया। बच्ची भी पुलिसकर्मियों को देख बंदरों की तरह चीखने लगी।



- लड़की को पुलिसकर्मियों ने अस्पताल में एडमिट कराया। बच्ची के शरीर पर जंगली जानवरों के काटने के जख्म थे। वो ना तो इन्सानी भाषा समझ पाती है और ना ही बोल पाती है। फिलहाल डॉक्टर इलाज कर रहे हैं। लेकिन डाक्टरों को देखते ही वह चिल्ला उठती है जिसकी वजह से मेडिकल व नर्सिंग स्टाफ को इलाज में खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। एसओ राम अवतार ने बताया कि इस मामले में न तो कोई केस दर्ज है न ही उसके परिजनों को अता-पता चल रहा है।