कर्मचारी को 50 हजार से ज्यादा का दिया गिफ्ट तो कंपनी को देना होगा GST

नई दिल्ली (10 जुलाई): सरकार ने साफ कर दिया है कि अब 50 हजार रुपए से अधिक का गिफ्ट आप सालभर में बिना जीएसटी भरे नहीं दे सकते। अगर कर्मचारी को कंपनी साल भर में 50 हजार रुपए से अधिक का गिफ्ट देती है तो इस पर जीएसटी देना होगा। वित्‍त मंत्रालय ने सोमवार को ट्वीट कर इस बारे में जानकारी दी है। इसके साथ अगर कर्मचारी अपने काम के तौर पर कंपनी को सर्विस देता है उस पर जीएसटी नहीं लगेगा।


वित्‍त मंत्रालय के मुताबिक कंपनी अगर अपने कर्मचारी को बिना बताए पैसा या कोई वस्‍तु देती है तो यह गिफ्ट माना जाएगा। कंपनी अपनी इच्‍छा से और किसी मौके पर कुछ देती है, तो यह गिफ्ट है। गिफ्ट कर्मचारी का अधिकार नहीं है और वह इसके लिए कोर्ट नहीं जा सकता है।


कंपनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को क्लब, हेल्थ, फिटनेस सेंटर जैसे सुविधाएं एम्पॉलयर अपने एम्पलाईज को दी जाती हैं, तो उस पर जीएसटी नहीं लगेगा। बर्शते एम्पॉलयर ने सभी गिड्स खरीदने पर जीएसटी चुकाया हो। हाउसिंग के लिये भी यहीं नियम लागू होगा। रहने के लिये फ्री घर देने पर जीएसटी नहीं लगेगा।


दरअसल, कई कंपनियों में सैलरी को लेकर अलग अलग क्राइटेरिया अपनाए जाते हैं। कई जगहों पर असली सैलरी कुछ और होती है, पर उन्हें कम करके दिखाया जाता है। बाकी की सैलरी बोनस, गिफ्ट के तौर पर दिखाई जाती है, ताकि टैक्स की चोरी की जा सके। पर अब सरकार की नजर इस तरफ भी पड़ गई है।