इस स्कूल की छात्राओं में घूस जाता है भूत, भगाते हैं तांत्रिक

नई दिल्ली ( 8 फरवरी ): मध्य प्रदेश के एक स्कूल इन दिनों भूत-प्रेत की अफवाहों की चर्चा है। यह स्कूल मध्य प्रदेश के डिंडोरी जिले में स्थित है।  कहा जा रहा है कि इस स्कूल में पिछले 6 साल से किसी भूत-प्रेत का साया मंडरा रहा है। अचानक ही छात्राएं डरावनी हरकतें करते हुए चीखने-चिल्लाने लगती हैं। हालांकि, कई लोग इन बातों पर विश्वास नहीं करते।

इस स्कूल की पूरी कहानी यह है कि डिंडोरी से करीब 65 किमी दूर करंजिया स्थित है। यहां के गोपालपुर गांव में स्थित सरकारी हाईस्कूल एक अजीब रहस्य के चलते सुर्खियों में हैं। खबरों के मुताबिक इस स्कूल में पिछले 6 साल से किसी बुरी आत्मा का साया मंडरा रहा है।

स्कूल के प्रिंसिपल पहल सिंह खुद भी भूत-प्रेत की बातों पर विश्वास करने लगे हैं। वे बताते हैं कि, यहां की छात्राएं कभी भी पढ़ते-पढ़ते अजीबो-गरीब और डरावनी हरकतें करने लगती हैं। प्रिंसिपल के मुताबिक, लड़कियां अचानक चीखते हुए उत्पात मचाने लगती हैं। उनके इलाज के लिए दवा से लेकर झाड़-फूंक तक सभी तौर-तरीके अपनाए, लेकिन कोई फायदा नहीं मिला।

खबरों के अनुसार इस समय स्कूल में 10 और 11वीं की 5 छात्राएं बुरी आत्मा के वश में हैं। इसलिए स्कूल में लगातार तांत्रिकों को बुलाया जा रहा है। तांत्रिकों को देखकर छात्राएं आगबबूला हो उठती हैं। वे यहां-वहां भागने लगती हैं। एक तांत्रिक की थाली में तो, छात्रा ने जोर से लात दे मारी और चीखने-चिल्लाने लगी। यह देख बाकी बच्चे डरके मारे भाग निकले।

गांव में ही रहने वाले हनुमानजी के एक भक्त ब्रम्हानंद तर्क देते हैं कि, जिस जगह पर स्कूल बना हुआ है, वहां कभी श्मशान हुआ करता था। वे दावा करते हैं कि, जब वे हनुमानजी को अगरबत्ती लगाते हैं, तो छात्राओं को आराम मिल जाता है।

इस पूरे मामले में मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर के मेहरा ने कहा कि छात्राएं किसी बीमारी से ग्रस्त होंगी। भूत-प्रेत जैसी कोई चीज नहीं होती।