अस्पताल में इलाज के नाम पर ठगी!

पीयूष गौड, गाजियबाद (23 अप्रैल): दिल्ली के पास गाजियाबाद के अस्पताल में एक मासूम की मौत पर जमकर हंगामा हुआ। यहां तक कि बच्चे के परिजनों ने डॉक्टर की पिटाई तक कर दी। आरोप है कि बच्चे की मौत के बाद भी इलाज के नाम पर अस्पताल में पैसे ऐंठे गए।


दिल्ली से सटे गाजियाबाद के अस्पताल में ढाई साल के एक मासूम की मौत पर जमकर हंगामा मचा। बच्चे की मौत से बिफरीं महिलाओं ने तोड़फोड़ करते हुए वहां मौजूद एक डॉक्टर की पिटाई तक कर दी। एक बदहवास महिला अस्पताल के चप्पे-चप्पे में जाकर तोड़फोड़ की कोशिश करती रही। बच्चे की मौत से भड़की महिला को आखिरकार दरवाजा बंद कर रोकना पड़ा।


दरअसल इस हंगामे के पीछे अस्पताल की लापरवाही को जिम्मेदार ठहराया गया है। तबीयत खराब होने पर 19 अप्रैल को यहां एक बच्चे को एडमिट कराया गया था। आरोप है कि इलाज शुरू करने से पहले बच्चे के पिता को बच्चे के ठीक हो जाने का भरोसा देते हुए पैसे जमा कराने को कहा गया। इलाज के नाम पर बच्चे के पिता से बार-बार रुपये जमा करवाए गए। बच्चे की हालत जानने की कोशिश करने पर परिवारवालों को टरकाया जाता रहा और आखिरकार तीसरे दिन बच्चे की मौत की जानकारी दी गई। वो भी तब जब परिजनों ने दबाव बनाकर पूछताछ की।


अस्पताल की लापरवाही को लेकर बच्चे के परिजनों का गुस्सा फूट पड़ा और उन्होंने तोड़फोड़ के साथ मारपीट करते हुए जमकर हंगामा मचाना शुरू कर दिया। जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्चे के परिजनों को किसी तरह समझा-बुझाकर हंगामा शांत करवाया। लेकिन आरोपों के हिसाब से बड़ा सवाल ये है कि क्या वाकई बच्चे की मौत के बाद भी अस्पताल में रुपये ऐंठे जाते रहे? जाहिर है पूरे मामले की बेदह गंभीरता से जांच करने पर ही सच सामने आ पाएगा।