जर्मनी में बड़े हमले की आशंका, नागरिकों से कहा- 10 दिन का राशन रखें पास

नई दिल्ली (24 अगस्त): जर्मन सरकार ने देश में बड़े हमले की आशंका जताते हुए अपने नागरिकों से कहा है कि वे कम से कम 10 दिन का राशन-पानी घर में जमा करके रखें। सरकार को आशंका है कि देश पर आतंकी या किसी तरह का हमला हो सकता है।

 इसके लिए सरकार बुधवार को बाकायदा एक प्रपोजल पास करने वाली है। 69 पन्नों का है ये प्रपोजल...

- होम मिनिस्ट्री ने 69 पन्नों के डॉक्युमेंट्स में यह प्रपोजल दिया है। - इसके साथ ही नागरिक सुरक्षा कानून में 1995 के बाद पहली बार अमेंडमेंट किया जा रहा है। - विपक्षी सांसदों ने इसे क्रिटिसाइज करते हुए लोगों में दहशत फैलाने के लिए उठाया गया कदम बताया है।

कहीं कोई भोजन या पानी में जहर न मिला दे... - होम मिनिस्टर थॉमस द मैजिएरे ने स्कूली बच्चों के एक प्रोग्राम में उन्हें अलर्ट रहने को कहा। - उन्होंने कहा, "कोई भी आपके भोजन या पीने के पानी में जहर मिला सकता है। आपके घर की गैस सप्लाई खत्म कर सकता है।" - "10 दिन के लिए खाने की भरपूर चीजें और पानी घर में रखें।" - "रोज के इस्तेमाल के लिए हर शख्स के हिसाब से कम से कम दो लीटर के हिसाब से पानी रखे।" - सरकार ने मिल्क पाउडर और बीन्स के साथ दूसरी खाने की चीजों को खुफिया जगह पर छिपा कर रखा है, ताकि इमरजेंसी में काम सके। - आपदा की स्थिति में इमरजेंसी ऑफिस राशन और तेल के लिए अलग से कूपन जारी करेगा।