सर्जिकल अटैक पर बोले वीके सिंह- देश में गंदगी पहुंचने से पहले ही उसे मिटा देना अच्छा

नई दिल्ली(30 सितंबर): कश्मीर के उरी सेक्टर में सेना के कैंप पर हुए आतंकी हमले को विदेश राज्य मंत्री जनरल वी.के.सिंह ने कायरतापूर्ण बताया है। उन्होंने फेसबुक पोस्ट पर लिखा कि :ग्यारह दिन पहले हमारे 18 सैनिकों को कायरतापूर्ण ढंग से मारा गया था। वे सैनिक किसी पर हमला नहीं कर रहे थे। उनका अपराध बस यही था कि वे अपने देश की सीमाओं पर तैनात थे।

बता दें उरी में आतंकी हमले में 18 जवानों शहीद हो गए थे। जिसके बाद भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ता गया। 

वी.के. सिंह ने क्या लिखा

उन्होंने फेसबुक पोस्ट पर लिखा कि :ग्यारह दिन पहले हमारे 18 सैनिकों को कायरतापूर्ण ढंग से मारा गया था। वे सैनिक किसी पर हमला नहीं कर रहे थे। उनका अपराध बस यही था कि वे अपने देश की सीमाओं पर तैनात थे। उरी तीन दिशाओं से पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से घिरा हुआ है। पाकिस्तान के अनुसार वह हमला चौथी दिशा, अर्थात भारत की तरफ से हुआ था। कुछ देश स्वदेश के आतंकियों का पड़ोसी देश के सैनिकों से अधिक सम्मान करते हैं।  यह कुछ नया नहीं था, पर कभी न कभी हर भारतीय को यह ज़रूर लगा होगा कि हमारी सेना भी कितनी असहाय है। आतंकी प्रशिक्षण पा कर सीमा लांघते हैं, उत्पात मचाते हैं, और मर्यादा हमारे सैनिकों के हाँथ बांधे हुए हैं। हम ही हैं जो सीमाओं का सम्मान करते हैं, हमारी प्रतिक्रिया का संधि और शान्ति पर होने वाले प्रभाव का सोचते हैं।  कहा गया है न कि अति सर्वत्र वर्जयेत।  हमारे नागरिक और सैनिक सस्ते नहीं हैं। भारत का विश्व में जो पद-प्रतिष्ठा है उसके लिए दोनों का बहुत खून पसीना बहा है।  पड़ोसी देश की गन्दगी जब हमारे देश में पहुँच जाती है तो उसका हम सफाया कर देते हैं। पर अब अपने देश में गन्दगी पहुँचने से पहले ही उसे मिटा देना अच्छा है।  स्वच्छ भारत अभियान में भारतीय सेना की एक अग्रसक्रिय पहल।  जय हिन्द, जय जवान।