युद्ध की पोशाक में सीमा पर पहुंचे सेनाध्यक्ष दलबीर सिंह

उधमपुर (1 अक्टूबर): एलओसी पार कर आतंकी शिविरों को ध्वस्त करने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है। इस बीच उत्तरी कमान का दौरे करने पहुंचे सेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग युद्ध की पोशाक में नजर आए। उन्होंने दोनों देशों के बीच बिगड़े हालातों के बारे में तो कुछ नहीं कहा लेकिन उनकी यह ड्रेस सबकुछ बयान कर गई।

केंद्र सरकार पहले ही कह चुकी है कि वह हर स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है और इसी को देखने के लिए सेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग ने उत्तरी कमान का दौरा किया। एक रक्षा अधिकारी ने बताया कि जनरल सिंह आज सुबह उत्तरी कमान के मुख्यालय पहुंचे और उन्होंने यहां नियंत्रण रेखा समेत जम्मू और कश्मीर में किसी भी स्थिति से निपटने की भारत की तैयारियों की समीक्षा को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।

उरी हमले के बदले के तौर पर देखे जा रहे लक्षित हमले की योजना उत्तरी कमान ने बनायी थी और उसे अंजाम दिया था। अधिकारी ने बताया कि सिंह ने लीपा, तत्तापानी, केल और भिंबर स्थित सात आंतकी ठिकानों पर ‘सफल’ लक्षित हमला करने वाले जवानों की निजी तौर पर सराहना की।

सेना प्रमुख पीओके में हुए सर्जिकल ऑपरेशन में शामिल सैनिकों से भी मिले और सफल ऑपरेशन के लिए उन्हें शाबाशी दी। मिलिट्री सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान की ओर से किसी भी कार्रवाई का भारत मुहंतोड़ जवाब देने को तैयार है। पश्चिमी बॉर्डर की 24x7 निगरानी के लिए सैटेलाइट, रडार और अन्य टेक्निकल इंटेलिजेंस की भी मदद ली जा रही है।