वीके सिंह की दहाड़-कश्मीर हमारा है हमारा रहेगा

नई दिल्ली (17 जुलाई): भारत के विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा है कि कश्मीर हमारा है हमारा रहेगा। जो बुरहान वानी की मौत पर दुख जता रहे हैं वो अंदर से डर चुके हैं। उन्होंने कहा कि दोस्तों, जब आतंकवादी, ईर्ष्यालु पड़ोसी और देश में रह कर उसे ही तोड़ने वाले देशद्रोही एक सुर में राग अलापें, तो समझ लीजिए कि उनके खेमे में संकट के बादल मंडरा रहे हैं। बाकी आप खुद समझदार हैं।

जनरल वीके सिंह ने क्या-क्या लिखाः

- वीके सिंह ने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा है कि भारतीय सेना आतंकी बुरहानवानी उसे मार गिराया। हमें गर्व है अपनी सेना पर। 

- भगवान न करे कोई आपदा कश्मीर में आये, जिन सैनिकों पर भीड़ में शामिल लोग पत्थर बरसा रहे हैं, वही सैनिक संकट मोचक बन कर सबसे आगे खड़े होंगें। इस विश्वास की पुष्टि मुझसे नहीं, किसी कश्मीरी से ही कर लीजिए।   - कुछ लोग कश्मीर की परिस्तिथि का ठीकरा भारत के सर फोड़ते हैं, और यूएन कंवेशन का हवाला देते हुए कहते हैं कि भारत ने अभी तक कश्मीरियों से मताधिकार क्यों नहीं करवाया। 

- सबको शायद यह जान कर आश्चर्य होगा कि, भारत चाह कर भी कश्मीर में लेकर जनमत नहीं करवा सकता, क्योंकि यूएन कंवेशन के अनुसार जनमत से पहले पाकिस्तान को ग़ुलाम कश्मीर से अपनी सेनाएं हटानी पड़ेंगी।    -सुखद आश्चर्य होता है जब कश्मीर का एक युवा सिविल सर्विसेज़ में सर्वोच्च स्थान से उत्तीर्ण होता है तो वहीं असहनीय वेदना होती है जब कोई दूसरा युवा हाथ में पत्थर उठा लेता है।   - कश्मीरी युवाओं को यह निर्णय लेना पड़ेगा कि कौन से विकल्प से वो कश्मीर को बेहतर बना सकते हैं।    - कश्मीर तो हमारा ही रहेगा। 1947 से इस विचार में कोई परिवर्तन नहीं आया और न ही आएगा। 

- 2004 में हमारे प्रधानमंत्री ने कहा था कि भारत की सीमाएं परिवर्तित नहीं होंगी, आवत-जावत के लिए सुविधा अवश्य दी जा सकती है।