इंगलैण्ड के झण्डे के साथ फहराया जायेगा गे-फ्लैग !

नई दिल्ली (7 अगस्त): ब्रिटिश विदेश मंत्री बोरिस जॉन्सन ने कार्यभार संभालने से पहले ब्रिटिश दूतावासों और दुनियाभर के उच्चायोगों पर समलैंगिक गौरव के प्रतीक इंद्रधनुषी ध्वज फहराने पर लगे प्रतिबंध को हटा दिया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्व विदेश सचिव फिलिप हमोंद को पिछले साल ब्रिटिश दूतावासों को युनियन जैक के अतिरिक्त कोई भी ध्वज फहराने से रोकने वाली नीति का पालन करने का आदेश देने के कारण आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था।

ब्रिटिश नियमों  के तहत दूतावासों पर समलैंगिक गौरव का प्रतीक इंद्रधनुषी ध्वज फहराने पर रोक लगा दी गई थी। एफसीओ के प्रवक्ता ने कहा कि विदेश और राष्ट्रमंडल कार्यालय के भवनों पर इंटरनेशनल डे एगेन्स्ट होमोफोबिया, बाफोबिया और ट्रांसफोबिया (आईडीएएचओबीआईटी) जैसे अंतर्राष्ट्रीय दिवसों और स्थानीय उत्सवों पर पर इंद्रधनुषी ध्वज फहराया जा सकता है। लेकिन यह निर्णय राजदूतों के अधीन होगा कि वे ऐसे खास मौकों पर इंद्रधनुषी ध्वज फहराना चाहते हैं या नहीं।