कभी गैरेज में करते थे काम, अब है 150 कारों, 3000 अकाउंट्स और 23 होटल्स के मालिक

नई दिल्ली (10 फरवरी): गैराज में 4 से 5 हजार के लिए काम करने वाला व्यक्ति क्या कभी अरबों का मालिक हो सकता है। अगर इसका उत्तर हां मिले तो आप भी हैरान हो जाएंगे। लेकिन ये सच है। हम बात कर रहे हैं गौतम कुंडू के बारे में। कभी गैराज में काम करने वाले गौतम कुंडू की संपत्ति के बारे में आप यह जानकर हैरान हो जाएंगे।

जनवरी 2016 के अंत में घोटाले के आरोप में गिरफ्तार रोज वैली के मालिक गौतम कुंडू के पास 150 लग्जरी कारें, 700 एकड़ जमीन 12 राज्यों में फैली है। आपको बता दें कि उसके पास 23 होटल्स भी हैं। केवल इतना ही नहीं उनके पास मौजूद कारों में कई विदेश से मंगाई गई महंगी और लग्जरियस हैं। यही नहीं इनकी कंपनी की देश भर में 900 ब्रांच और 3,078 बैंक खाते हैं। ये संपत्ति उसने मेहनत से नहीं बल्कि जालसाज़ी और धोखेबाज़ी से कमाई है।

ईडी के मुताबिक, कुंडू की संपत्ति पश्चिम बंगाल, ओडिशा, बिहार, असम, पंजाब, दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश, त्रिपुरा, राजस्थान, झारखंड और आंध्र प्रदेश में है। इस ग्रुप ने पिछले कुछ सालों में 15,400 करोड़ रुपय की संपत्ति जमा की है। बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान भी इस कंपनी के ब्रांड एंबेसडर रह चुके हैं। इसके अलावा आईपीएल में शाहरुख की टीम केकेआर को भी रोज वैली ने 2012-13 में स्पॉन्सर्ड किया था।

रोजवैली की शुरुआत त्रिपुरी से हुई थी वहां गौतम कुंडू के भाई काजल कुंडू ने कंपनी की शुरुआत की थी। भाई की मौत के बाद गौतम कुंडू कोलकाता आ गए और दमदम स्थित एक गैराज में काम करने लगे। इसी दौरान उन्होंने कुछ चिटफंड कंपनियों के एजेंट के तौर पर कार्य शुरू किया। इसके बाद उन्होंने अपनी कंपनी खोल ली। गौतम ने कारोबार अपने नाम कर लिया। गौतम ने कारोबार की दिशा ही बदल दी और स्कीम को आशीर्वाद के नाम से चलाने लगा। कारोबार को पश्चिम बंगाल से आगे ओडिशा और अन्य राज्यों में भी फैलाया।

सेबी ने बताया कि 2006-07 में रोज वैली के नाम पर कलेक्शन 3.75 करोड़ रुपए का ही था, लेकिन 2009-10 में यह 1271.98 करोड़ रुपए का हो गया। 2011 में सेबी ने रोज वैली रीयल एस्टेट के मनी कलेक्शन पर रोक लगा दी।