यहां गांजे का नशा करने के बाद लोग करते हैं योगा, देखें क्लास की फोटो

नई दिल्ली ( 14 जनवरी ): इन दिनों अमेरिका के फेमस योग गुरु ‘बिक्रम चौधरी’ चर्चा में हैं, क्योंकि सेक्शुअल हैरेसमेंट के एक केस में उनकी पूरी प्रॉपर्टी उनकी एक वकील के नाम हो गई है। दरअसल, पिछले कुछ सालों में योगा को बहुत ज्यादा पब्लिसिटी मिली है और इसका असर अब पूरी दुनिया में दिखाई देने लगा है। लेकिन, यहां हम एक ऐसे योगा की बात कर रहे हैं, जिसके बारे में जानकर आप चौंक उठेंगे। जी हां, अमेरिका के सैन फ्रैंसिस्को की योगा क्लास में गांजे का सेवन किया जाता है।



सैन फ्रैंसिस्को में यह अनोखी योगा क्लास योग गुरू डी डुसॉल्ट चलाते हैं। डुसॉल्ट ने 2012 में योग क्लास शुरू की थी और अब यह पॉपुलर हो चुकी है। योगा क्लास में गांजे के सेवन के साथ ही योगा और प्राणायाम किया जाता है। डुसॉल्ट की इस योगा क्लास में हरेक सेशन में एक बार में सिर्फ 25 लोग ही शामिल हो सकते हैं।



एक सेशन की फीस 25 डॉलर होती है। योगा में डिप्रेशन के मरीजों को प्राथमिकता दी जाती है। क्लास शुरू होने के तकरीबन आधे घंटे पहले ही सभी स्टूडेंट्स को गांजे का सेवन करना होता है। गांजे का सेवन करने का कोई तरीका नहीं है। इसे स्टूडेंट्स अपने-अपने तरीकों से ले सकते हैं।



डुसॉल्ट पिछले 22 सालों से लोगो को योगा सिखा रहे हैं। डुसॉल्ट बताते हैं कि उनकी क्लास में लड़कियों की संख्या अधिक रहती है। इस बारे में डुसॉल्ट का कहना है कि गांजा लोगों को आंतरिक और आध्यात्मिक ऊर्जा प्रदान करता है। गांजे का नशा होता ही व्यक्ति का मन शांत हो जाता है और व्यक्ति शांति का अनुभव करने लगता है।



डुसॉल्ट का यह भी कहना है कि वे पहले ऐसे योगा गुरू हैं, जो लोगों को ‘गांजा योगा’ के लिए प्रेरित कर रहे हैं। डुसॉल्ट का यह भी दावा है कि यहां योगा करने वाले कई लोग इसे पॉजिटिव तरीका बता चुके हैं।