'2018 में गंगा दुनिया की सबसे साफ नदियों में शुमार होगी'

नई दिल्ली (28 मई): केंद्रीय जल मंत्री उमा भारती ने का कहना है कि साल 2018 तक गंगा दुनिया की 10 सर्वाधि‍क स्वच्छ नदियों में शुमार होगी। उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए 20 हजार करोड़ रुपये की धनराशि आवंटित की है।

मोदी सरकार के दो साल पूरा होने के उपलक्ष्‍य में नई दिल्‍ली के इंडिया गेट पर आयोजित मेगा शो 'एक नई सुबह' में बोलते हुए उमा भारती ने यह बात कही। उन्होंने कहा, "पिछली सरकारों ने अनियोजित ढंग से इस मद में खर्च किया है। हम बेहद साफ ढंग से गंगा को साफ करने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।" 

वर्तमान स्थिति का हवाला देते हुए उन्होंने बताया कि फिलहाल गंगा दुनिया की 10 सर्वाधिक गंदी नदियों में गिनी जाती है। 2018 तक यह 10 सर्वाधिक स्वच्छ नदियों में शुमार होगी। उमा भारती ने यह भी कहा कि गंगा की सफाई का अभियान बेहद चुनौतीपूर्ण दायित्‍व है। दशकों से उद्योगों का कचरा गंगा में डाला जाता रहा है। हमने इसके साथ ही यमुना की भी साफ-सफाई का कार्यक्रम शुरू किया है। हमने उद्योगों से गंगा में कचरा नहीं डालने के लिए कहा है।