WATCH: ये 'बस' कारों के ऊपर चलकर सुलझाएगी ट्रैफिक की समस्या, आएंगे 1200 यात्री

नई दिल्ली (25 मई): पिछले कुछ सालों में जिस तेजी से टेक्नॉलॉजी आगे बढ़ी है और हमारे जीवन में इसने अपनी जगह बनाई है। इसमें विकास की संभावनाओं में कमी के बारे में सोचना बिल्कुल भी सही नहीं है। टेक्नॉलॉजी में अभी भी तमाम संभावनाएं मौजूद हैं, इसको एक बार फिर से साबित कर दिया गया है।

बीजिंग की एक कम्पनी ट्रांसिट एक्सप्लोर बस ने एक नई तकनीक विकसित की है। कम्पनी एक ऐसी स्ट्रैगलिंग बस का मॉडल लेकर आई है। जो कारों के ऊपर से आसानी से गुजर जाने में सक्षम है। यह बस इस तरह से चलेगी जैसे कोई पैर फैलाकर चल रहा हो। इससे ना तो कार चलाने वालों को कोई दिक्कत होगी, ना ही ट्रैफिक की कोई समस्या।

टू-लेन की सड़क के बराबर चौड़ाई की बस में 1,200 यात्री आ सकते हैं। इसमें चढ़ने के लिए एलीवेटर्स का इस्तेमाल होगा। जिन्हें खास स्टेशनों पर चढ़ाया जाएगा। 

इस डिजाइन को विकसित करने में खर्चा किसी सबवे स्टेशन को बनाने के खर्चे से काफी कम होगा। जिससे ना केवल ट्रैफिक के परेशानी सुलझेगी। इसके अलावा उत्सर्जन की समस्या भी सुलझेगी। 40 बसों की जगह लेने वाली एक स्ट्रैडलिंग बस हर साल 800 टन ईंधन बचाएगी। इसके अलावा 2,480 टन कार्बन उत्सर्जन भी बचाएगी।

इस मॉडल का एक वीडियो भी आया है। आप भी देखिए

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=LeLAidJl5aw[/embed]