75 साल पहले गायब हुए पति-पत्नी इस हाल में मिले


नई दिल्ली (20 जुलाई):
75 साल पहले पति और पत्नी अपने बच्चों से दूध निकालने की बात कहकर गए थे, लेकिन वह वापस नहीं लौटे। दोनों की काफी तलाश की गई, लेकिन कुछ पता नहीं चल सका। हालांकि 75 साल  के बाद दोनों की लाश मिली, वो भी पूरी तरह से सुरक्षित।

रिपोर्ट के अनुसार, स्विट्ज़रलैंड में 15 अगस्त, 1942 को मार्सेलिन और फ्रेंकाइन डुमोलिन ने बेटी मॉनिक को गले लगाया, गुडनाइट कहा और दूध दुहने के लिए निकल गए। जब अगली सुबह तक वे घर वापस नहीं आए तो गांववालों ने उनकी खोजबीन शुरू की। लापता होने वाले मार्सेलिन 40 साल के थे और शूमेकिंग का काम करते थे, जबकि 37 साल की फ्रेंकाइन टीचर थीं।

पूरे गांव ने उन्हें तलाशा, पर वे कहीं नहीं मिले। आखिरकार तीन हफ्ते बाद गांव के प्रीस्ट ने मॉनिक और उसके 6 अन्य भाई-बहनों की जिम्मेदारी गांव वालों के बीच बांट दी। मॉनिक कहती हैं कि मां-बाप के अचानक गायब होने के बाद बच्चों का बचपन छिन गया। उन्हें गार्डन, खेत और वाइनयार्ड में काम करने जाना पड़ता। पांचों भाई और दो बहनें एक ही गांव में रहने के बावजूद काम के कारण मिल भी नहीं पाते थे।

बहरहाल, मार्सेलिन और फ्रेंकाइन की बॉडीज 8500 फीट की ऊंचाई पर मिली हैं। ग्लेशियर की बर्फ पिघलने के बाद उनकी बॉडी सामने आईं। इस बारे में स्की रिसोर्ट वालों ने खबर की थी। डेड बॉडीज के साथ बैकपैक, किताब और एक बोतल भी मिली है। डीएनए टेस्ट में यह कन्फर्म हो गया है कि वे मार्सेलिन और फ्रेंकाइन ही हैं।