फ्रांसीसी बहू ने भी रखा छठ व्रत, की भगवान सूर्य की उपासना

नई दिल्ली ( 6 नवंबर ) : छठ का पर्व अब बिहार और पूर्वी यूपी ही नहीं पूरे देश में धूमधाम से मनाए जाने लगा है। छठ की महत्ता विदेशी भी अपना रहे हैं। इस कड़ी में सेवराई स्थित पोखरे पर फ्रांसीसी बहू को परंपरा निभाते देख लोग आश्चर्यचकित हो गए। यहां फ्रांसीसी बहू कुकी ने छठ का व्रत रहकर अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया।

भदौरा ब्लाक के सतरामगंज बाजार निवासी श्वेतांक ने कुछ साल पहले पेरिस की रहने वाली कुकी के साथ वहीं पर प्रेम विवाह किया है। श्वेतांक कुकी को लेकर जब पहली बार अपने गांव आए तो उसने यहां के छठ पर्व की महिमा सुनी। कुकी ने संकल्प लिया कि यदि छठ माता की महिमा से उन्हें पहले पुत्र प्राप्त हुआ तो वह छठ का पर्व जरूर करेंगी।

इसके बाद दंपती को पुत्र रत्न की प्राप्ति हुई। उनका पर्व पर विश्वास और बढ़ गया। कुकी इस साल अपने दो वर्षीय पुत्र नील के साथ छठ करने के लिए अपने ससुराल सतरामगंज सेवराई आईं और पति श्वेतांक, पुत्र नील सहित डूबते सूर्य को अघ्र्य दिया। क्षेत्र में फ्रांसीसी बहू द्वारा छठ पूजा किया जाना लोगों में दिन भर चर्चा का विषय बना रहा।