फ्रांस्वा ओलांद ने कहा, डोनाल्ड ट्रंप को सख्त जवाब दें यूरोपीय देश

नई दिल्ली ( 29 जनवरी ): फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने शनिवार को यूरोपीय देशों से आग्रह किया कि उन्हें नए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को सख्त जवाब देना चाहिए, क्योंकि ट्रंप ने यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के बाहर निकलने का आह्वान किया था।

यहां दक्षिण यूरोपीय देशों के सम्मेलन से इतर संवाददाताओं से बातचीत में ओलांद ने कहा, ‘ जब अमेरिकी राष्ट्रपति यूरोप के बारे में बयान देते हैं और जब वह दूसरे देशों के लिए एक मॉडल के तौर पर ब्रेक्जिट की बात करते हैं। तो मेरा मानना है कि हमें इसका सख्त जवाब देना चाहिए।’

उन्होंने कहा कि यूरोप को वाशिंगटन के साथ एक सख्त संवाद करनी चाहिए। ओलांद ने कहा, ‘जब वह संरक्षणवादी उपायों को अपनाते हैं, जो न सिर्फ यूरोप में बल्कि दुनिया के अहम देशों की अर्थव्यवस्था को भी अस्थिर कर सकता है। लिहाजा हमें उन्हें सख्त जवाब देना चाहिए। और उन्होंने शरणार्थियों को शरण देने से इनकार किया है जबकि यूरोप ने इसे अपने कर्तव्य के तौर पर लिया है। तो हमें जवाब देना चाहिए। हमें अपनी बात दृढ़तापूर्वक रखनी है और यही कारण है कि मेरा मानना है कि हमें उनके साथ सख्त संवाद करनी चाहिए ताकि वैश्विक समस्याओं के समाधान के लिए एक लक्षित दिशा के साथ आगे बढ़ा जा सके।’

खबर है कि ट्रंप ने शनिवार को जर्मन चांसलर एंजेला मोर्कल और रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन के साथ ओलांद से बातचीत की है।