कर्ज से परेशान इस शख्स ने पूरे परिवार को खिलाया जहर

नई दिल्ली (3 जून): उत्तराखंड के उधमसिंह नगर जिले से एक बेहद ही दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक बेरोजगार व्यक्ति ने अपनी पत्नी और दो बेटियों की जहर देकर हत्या करने के बाद अपनी भी जान देने की कोशिश की। हालांकि तुरंत इलाज की वजह से अंशुमान सिंह के दो अन्य बच्चों को बचा लिया गया है।   आपको बता दें कि औद्योगिक शहर काशीपुर से सटे कुंडा के थानाध्यक्ष सुधीर कुमार ने बताया कि बेरोजगारी के कारण कर्जदारों के तगादों से परेशान हो गया था। प्राप्त जानकारी के अनुसार, सिंह के घर में कल कुछ खाने को नहीं था जिसके बाद वह बाहर से कुछ पैसे की व्यवस्था करने की बात कहकर निकला।दोपहर को वापस आने के बाद उसने अपनी पत्नी सरिता (30 वर्ष), बडी बेटी दिव्यांशी (15 वर्ष) मंझली बेटी हिमांशी (14वर्ष), छोटी बेटी आर्या (10 वर्ष) और इकलौते बेटे रूद्रप्रताप (13 वर्ष) को जबरन जहर खिलाने के बाद खुद भी खा लिया। आर्या और रूद्रप्रताप ने जहर थूक दिया और बाहर भाग निकले।बाहर जाकर उन्होंने इसकी जानकारी अपने मकान मालिक को दे दी। मकान मालिक के मौके पर पहुंचने तक अंशुमान सिंह और दिव्यांशी की मौत हो चुकी थी। सरिता तथा हिमांशी की हालत खराब थी। सरिता और हिमांशी को मकान मालिक ने सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया जहां उपचार के दौरान आज सुबह उनकी भी मौत हो गयी।