अमेरिका में भारत के राजदूत रहे नरेश चंद्रा का निधन

गोवा (10 जुलाई): एक समय अमेरिका में भारत के राजदूत रहे नरेश चंद्रा का रात एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। वह करीब 82 साल के थे।


चंद्रा को बुखार और मांसपेशियों में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया, जहां शुक्रवार की रात दस बजकर 15 मिनट पर उन्हें दिल का दौरा पड़ा और इसके बाद उनके शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया। नौ जुलाई को रात दस बजकर पांच मिनट पर उन्हें दूसरा दिल का दौरा पड़ा, इसके बाद तमाम कोशिशों के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका और रात दस बजकर 40 मिनट पर उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।


चंद्रा ने साल 1990-92 के बीच मंत्रिमंडल सचिव के तौर पर अपनी सेवाएं दी थी। इसके बाद साल 1996 से 2001 तक वह अमेरिका में भारत के राजदूत रहे। उन्हें साल 2007 में भारत के दूसरे सबसे बड़े नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था।  अस्पताल के सूत्रों के अनुसार उनके परिवार को सूचना दे दी गई है और अंतिम संस्कार के लिए उनके पार्थिव शरीर को दिल्ली ले जाया जाएगा।