IPL 2018: प्लेइंग इलेवन से बाहर रहने को लेकर गौतम गंभीर का बड़ा खुलासा

नई दिल्ली (23 मई): दिल्ली डेयरडेविल्स टीम के पूर्व कप्ताम गौतम गंभीर ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। गौतम गंभीर ने कहा है कि वह खुद प्लेइंग इलेवन से बाहर नहीं बैठे थे, बल्कि यह टीम मैनेजमेंट का फैसला था।

दिल्ली की टीम ने गौतम गंभीर की कप्तानी में 6 मैच खेले थे, जिनमें एक मैच ही टीम जीत पाई थी, लगातार निराशा हाथ लगने के कारण गौतम गंभीर ने टीम की कप्तानी छोड़ दी थी, जिसके बाद श्रेयर अय्यर को डीडी का नया कप्तान बनाया गया था, लेकिन गौर करने वाली बात यह रही कि कप्तानी छोड़ने के बाद से गौतम गंभीर एक भी मैच में टीम की प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं रहे।

एक अंग्रेजी अखबार में लिखे कॉलम में गौतम ने साफ किया है कप्तानी छोड़ने के फैसले के बाद टीम से बाहर बैठने का फैसला उनका नहीं था, उन्हें तो प्लेइंग इलेवन में शामिल ही नहीं किया गया। गौतम ने लिखा है, ‘ बहुत लोगों ने पूछा कि कप्तानी छोड़ने के बद मैंने कोई मुकाबला क्यों नहीं खेला. मेरा सीधा सा जवाब है कि अगर प्लेइंग इलेवन में मुझे चुना गया होता तभी तो मैं खेल सकता था।’

गंभीर के इस बयान के बाद यह बात साफ हो गई है कि वह कप्तानी छोड़ने के बाद अपनी मर्जी के बैंच पर नहीं बैठे थे बल्कि टीम मैनेजमेंट ने उन्हें बाहर बिठाया था। इसके साथ ही इस कॉलम में गौतम ने यह भी साफ कर दिया है कि क्रिकेट से संन्यास लेकर डीडीसीए की राजनीति में कूदने का उनका कोई इरादा नहीं है।