सिर्फ 14 मिनट में मुंबई से पुणे!

नई दिल्ली ( 18 नवंबर ): इस आधुनिक युग में परिवहन के नए-नए संसाधनों का प्रयोग हो रहा है। भारत में पहली बुलेट ट्रेन चलाने की तैयारियां चल रहीं हैं, ऐसे में शहरों की दूरी घटाने के लिए परिवहन के अत्याधुनिक साधनों की तलाश हो रही है। ऐसी ही एक नई तकनीकि है हाइपरलूप, जिसमें 1150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से सफर करना मुमकिन है। इस तकनीकि की संभावनाएं भारत में भी तलाशी जा रही हैं। 

हाइपरलूप परिवहन का ऐसा माध्यम है, जिसमें मुसाफिर बंद पाइप के अंदर एक खास तरह के कम्पार्टमेंट में बैठकर सफर तय करते हैं। मैग्नेटिक फील्ड के जरिए चलने वाले हाइपरलूप की रफ्तार तकरीबन 1200 किलोमीटर प्रति घंटे होती है। वहीं किसी तरह के ईंधन का इस्तेमाल नहीं होने की वजह से ये पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाता है।

हाइपरलूप से नवी मुंबई और पुणे तक का सफऱ 14 मिनट में तय होगा। नवी मुंबई और पुणे तक का सफर सड़क के जरिए 3 घंटे का है। वहीं अमरावती और विजयवाड़ा के बीच का सफर 1 घंटे 5 मिनट में तय होगा। नवी मुंबई और पुणे के बीच 100 किमी हाइपरलूप की लाइन बिछाने में 26 हजार करोड़ रुपए का खर्च आएगा।