शादी के नाम पर 15 साल की लड़की का 9 महीने तक शारीरिक शोषण

नई दिल्ली (8 फरवरी): झारखण्ड से लाकर हरियाणा में बेची गयी 15 साल की नीता (परिवर्तित नाम) के साथ पहले तो कई बार दुष्कर्म किया गया फिर उसे 30 साल के एक आदमी से जबरन शादी करवा दी गयी। शादी के बाद भी उसकी किस्मत ने दगा दिया। उसका पति और ससुर उसे रोज रात को मारते पीटते थे। जब वो दर्द से कराहती तो लोग उस पर हंसते थे। नीता की छोटी बहन भी उसके साथ थी। ये लोग उसके साथ भी ऐसा ही व्यवहार करने सी कोशिश कर रहे थे, लेकिन वो उनके चंगुल से भाग कर वापस जमशेदपुर पहुंची और किसी तरह नारी शक्ति वाहनी के सम्पर्क में आयी।

इस एनजीओ ने हरियाणा सरकार से समपर्क साधा और नीता को हैवानों के चंगुल से छुड़वाया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हरियाण और पंजाब में सेक्स रेशियो में काफी अंतर होने की वज़ह से लड़कियों की भारी कमी है। हरियाणा और पंजाब के लोग बिहार, झारखण्ड, आसाम और बंगाल के पिछड़े इलाकों से लड़कियां लाकर शादी कर रहे हैं। कुछ लोग ऐसी ही खरीदकर लायी गयी लड़कियों के साथ अमानवीय व्यवहार भी करते हैं। पुलिस ने नीता के कथित पति और ससुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।