भारतीय फुटबॉल टीम ने रचा इतिहास, 64 साल बाद मिली यह उपलब्धि

नई दिल्ली (29 मार्च):  एएफसी एशियन कप क्वालिफायर फुटबॉल मैच में भारत ने कप्तान सुनील छेत्री के आखिरी मिनट के गोल की बदौलत म्यांमार को 1-0 से हरा दिया। इस जीत के साथ भारत ने म्यांमार को उसी के घर में हराने का 64 वर्ष पुराना रिकॉर्ड भी तोड़ दिया। भारत का अगला मैच अब 13 जून को किर्गिस्तान के खिलाफ होगा।भारतीय टीम इस समय पिछले 11 मैचों में 9 जीत के साथ शानदार फॉर्म में चल रही है। मेजबान टीम की युवा टीम और भारत के विदेश में ख़राब रिकॉर्ड के कारण म्यामांर को कमजोर मानने की भूल कौन कर सकता था।


पहले हाफ में दोनों टीमों के डिफेंडरों ने सफलतापूर्वक एक-दूसरे के खेल को रोकने में बाजी मारी तथा गोल की किसी भी सम्भावना को समाप्त कर दिया। दूसरे हाफ के खेल में घरेलू दर्शकों को टीम से काफी उम्मीदें थी लेकिन भारतीय खिलाड़ियों ने उन उम्मीदों पर पानी फेरते हुए मेजबान टीम को अंतिम मिनट तक गेंद को गोल में नहीं पहुंचाने दिया। भारत से फीफा रैंकिंग में 40 स्थान पीछे म्यांमार ने शानदार खेल दिखाया।


अंतिम मिनट में दोनों टीमों का स्कोर 0-0 था और ऐसा लग रहा था कि यह एक ड्रॉ के रूप में समाप्त होगा लेकिन सुनील छेत्री को यह मंजूर नहीं था। उन्होंने जेजे और उदांता के पास पर शानदार गोल दागते हुए भारत को 1-0 से आगे कर दिया। हालांकि एक मिनट का अतिरिक्त समय जरुर मिला लेकिन उसमें भी यह स्कोर बरक़रार रहा। सुनील छेत्री ने करियर का 53वां अन्तर्राष्ट्रीय गोल दागा, वहीँ भारत ने पिछले 6 मैचों में लगातार जीत दर्ज करने का कीर्तिमान भी बनाया।इसके साथ ही इण्डिया को तीन अंक प्राप्त हुए। 64 वर्षों में पहली बार इंडिया ने म्यांमार में इस प्रकार की जीत दर्ज की है।