वित्त मंत्री बोले, लोक लुभावन नहीं, ग्रोथ आधारित होगा बजट

नई दिल्ली(31 जनवरी): वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि सरकार लोक लुभावन बजट से बचेगी। फरवरी के आखिरी में आने वाले आम बजट पर उन्होंने कहा कि फोकस इन्फ्रास्ट्रक्चर, मैन्युफैक्चरिंग, सिंचाई और प्रोडक्शन बढ़ाने पर होना चाहिए।

वित्त मंत्री ने कहा कि बजट में उन एरिया में पर ध्यान दिया जाएगा जहां इन्वेस्टमेंट जरूरी है। अभी हम 7-7.5% की रेट से आगे बढ़ रहे हैं, लेकिन कैपिसिटी 8-9% की है। इस ग्रोथ रेट से ही गरीबी दूर की जा सकती है।

जेटली ने कहा कि इकोनॉमी की बुनियादी चीजें मजबूत होना जरूरी है। हमें नहीं भूलना चाहिए कि भारत उन चुनिंदा देशों में है जो 2001, 2008 और 2015 के संकट से सफलतापूर्वक बच निकला। उन्होंने आगे कहा कि सरकार पिछली तारीख से टैक्स दावों पर जोर नहीं देगी। जो दो-तीन बड़े विवाद हैं उनके भी जल्दी समाधान की कोशिश की जाएगी। बेवजह टैक्स लगाने से पैसे तो नहीं मिलते, बदनामी जरूरी मिलती है।