प्रधानमंत्री मोदी ने बैकों से कहा, बैंकिंग व्यवस्था को सामान्य करने पर करें ध्यान केंद्रित

नई दिल्ली ( 1 जनवरी ): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि नए साल में बैंकों के काम-काज सामान्य करने पर जोर दिया जा रहा है। यानी, जल्द ही रुपये निकालने की सीमा खत्म हो सकती है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि उन्होंने जिम्मेदार लोगों से कहा है कि बैंकिंग सिस्टम को जल्द-से-जल्द सामान्य किया जाए ताकि लोगों को आगे कोई परेशानी नहीं हो।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने संबंधित अधिकारियों से कहा है कि देश के दूर-दराज के इलाकों और गांवों में कैश को लेकर छोटी-छोटी समस्याओं को दूर करें। उन्होंने कहा कि सरकारी अधिकारियों को यह सुनिश्चित करना होगा कि वह निर्दोष और इमानदारों की खूब सेवा करें, लेकिन भ्रष्टों को छोड़ें नहीं।

प्रधानमंत्री ने नोटबंदी के बाद बैंक कर्मचारियों पर बैंक कर्मचारियों ने इस दौरान दिन-रात एक किए। हजारों महिला कर्मचारियों ने भी बैंकों में देर रात रुक कर काम किए। पोस्ट ऑफिसों में भी कर्मचारियों ने बहुत मेहनत की।

प्रधानमंत्री ने भ्रष्ट बैंक अफसरों पर अपना रोष प्रकट किया। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने गलत किया, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। प्रधानमंत्री ने बैंकों से कहा कि वह गरीबों, निम्न आय वर्ग और मध्य वर्ग के लोगों पर ज्यादा ध्यान दें।