मथुरा: गोकुल में हुई होली की शुरुआत, जमकर बरसे फूल और उड़े गुलाल

नई दिल्ली ( 20 फरवरी ): भगवान कृष्ण की नगरी मथुरा में सोमवार को होली महोत्सव की धूमधाम से शुरूआत हो गई। चालीस दिनों तक चलने वाले होली महोत्सव का आगाज गोकुल के रमणरेती गुरु शरणानंद के आश्रम से शुरु हुआ। इस अवसर पर लाखों की संख्या में मौजूद श्रदालुओं ने भजन-कीर्तन के साथ फूल, गुलाल और रंगों की जमकर होली खेली।

गुरु शरणानंद जी महाराज का मथुरा में गोकुल के नजदीक ‘श्री उदासीन कार्ष्णि आश्रम’ स्थित है, जिसे रमणरेती आश्रम के नाम से भी जाना जाता है। इस आश्रम में हर साल वार्षिकोत्सव के मौके पर होली का आयोजन किया जाता है और इस दौरान यहां खेली जाने वाली होली इस आयोजन की विशेषता होती है। इस बार की होली में सूखे फूलों के अलावा गुलाल और टेसू के फूलों से बने रंग का इस्तेमाल किया गया।