बिहार में बाढ़ से हाहाकार, 253 की मौत, 1 करोड़ से ज्यादा प्रभावित

नई दिल्ली (21 अगस्त): बिहार, असम, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में पानी ने कहर बरपा रहा है। बाढ़ से ये चार राज्य कराह रहे हैं। इन चारों ही राज्यों में कभी धरती की नदियां फुफकार रही हैं तो कभी आसमां के बादल बरस रहे हैं। बिहार में बाढ़ से मरने वालों का आंकड़ा 253 पहुंच गया है। 

इस बाढ़ में अररिया में सबसे अधिक 57 लोगों की मौत हुई है। सीतामढ़ी में 31, पश्चिमी चंपारण में 29, पूर्वी चंपारण में 19 और कटिहार में 23 लोगों की मौत हुई है। साथ ही मधुबनी, सुपौल और मधेपुर में 13-13 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। आपदा प्रबंधन विभाग ने यह आकंड़ा जारी किया है। 

चार राज्यों में आई बाढ़ में, सबसे बुरा हाल बिहार का है। बिहार के अठारह जिले जलप्रलय की मार खा रहे हैं। दो सौ से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और लाखों बेघर हैं। राहत और बचाव की कोशिशें चल रही हैं लेकिन इतनी बड़ी आबादी को राहत पहुंचाने में उनके प्रयास नाकाफी हैं। 

बिहार में लगातार हुई भारी बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ से राज्य में अबतक 253 लोगों की मौत हो गई जबकि बाढ़ से 18 जिलों के एक करो़ 26 लाख 87 हजार लोग प्रभावित हुए हैं। बाढ़ की वजह नेपाल में हुई भारी बारिश भी है जिससे राज्य 18 जिले सबसे अधिक प्रभावित हैं।