मैदान से पहाड़ तक बाढ़ का कहर, अब तक 290 लोगों की गई जान

Inage Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(17 अगस्त): देश के कई राज्यों में इन दिन मानसूनी बारिश लोगों की जिंदगी का दुश्मन बनी है। हर जगह पानी ही पानी नजर आ रहा है, लगातार हो रही बारिश के कारण बाढ़ से लोगों का जीना मुहाल हो गया है। देश में अब बाढ़ से अब तक करीब 290 लोगों की मौत हो चुकी है। मध्य प्रदेश के राजगढ़ में लहरें दो लोगों को बहा ले गईं, पानी से लबालब ब्रिज को पार करते वक्त यह हादसा हुआ। मंदसौर में भारी बारिश से रिहायशी इलाकों में पानी घुस गया, लोग घरों में रहने को मजबूर हो गए हैं। मध्य प्रदेश के शिवपुरी में भी हाईवे पर 5 फीट तक पानी का कब्जा हो गया है। भोपाल जाने वाला रास्ता बंद होने से हजारों लोग प्रभावित हुए हैं. उधर उत्तराखंड के चमोली में गुरुवार रात से बारिश हो रही है, बदरीनाथ हाईवे लैंडस्लाइड से फिर बंद हो गया है। यात्री जहां-तहां फंसे हैं, रुद्रप्रयाग में अलकनंदा और मंदाकिनी नदी की लहरें उफान पर हैं। यहां 20 फीट तक लहरों में भगवान शिव की मूर्ति समा गई, इसी के साथ उत्तराखंड में बारिश और बाढ़ से मरने वालों का आंकड़ा बढ़ गया है, अब तक 36 लोगों की जान गई है।

Inage Source Google

उत्तराखंड में अगले 2 दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग ने लोगों को चेतावनी जारी की है, यूपी के प्रयागराज में भी गंगा-यमुना का जलस्तर बढ़ गया है। संगम किनारे सड़कें लबालब भरी हैं, यहां पानी से गुजरने को लोग मजबूर हैं, यूपी के झांसी में भारी बारिश के चलते डाउन रेलवे ट्रैक पर पानी भर गया है। पटरी पर पानी के बीच ट्रेन फंसी दिखी। मध्य प्रदेश के निवाड़ी में जामनी नदी के उफान में तीन लोग फंस गए। वायुसेना ने हेलीकॉप्टर के जरिए इनका रेस्क्यू किया, ये लोग 24 घंटे से टापू पर फंसे थे। सैलाब में सेना के जवान देवदूत बने हैं जो मु्श्किल में फंसे लोगों को बचा रहे हैं। देवास में बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है, छोटे नदी-नालों को रस्सियों से पारकर लोग अपने घर पहुंच रहे हैं।

 गुना में भी बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं, दो दिनों से जारी भारी बारिश ने भारी मुसीबत बढ़ा दी है। राजगढ़ में बाजारों, बस्तियों और घरों-दुकानों में पानी घुस गया है,  राजस्थान के झालावाड़ में बारिश के बाद बाढ़ के हालात सामने आए हैं। बाढ़ से घिरे खेत में फंसे लोगों का रस्सी के जरिए रेस्क्यू किया जा रहा है, राजस्थान के बारां में लगातार बारिश से शहर पानी पानी हो गया है। घरों और बाजार में पानी की लहरें देखी जा रही हैं, राजस्थान के बूंदी जिले में 24 घंटे की बारिश से हालात बिगड़ गए हैं, सड़कों और बस्तियों में पानी भर गया है।

Inage Source Google

दिल्ली पर भी बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है, यहां यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान के पास पहुंच गया है। हरियाणा ने हथिनीकुंड बैराज से 1 लाख, 43 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा है। इस कारण यमुना नदी में बाढ़ का खतरा मंडरा गया है, यमुना नदी के आसपास के इलाकों में लोगों को सावधान रहने की नसीहत दी गई है। दिल्ली सरकार ने किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर ली है।

Inage Source Google

उधर कर्नाटक में बारिश और बाढ़ से मरने वालों की तादाद 62 हो गई है,भीषण बाढ़ की चपेट में प्रदेश के 22 जिले हैं, मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा इस बाबत दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी से मिले और आर्थिक मदद की मांग की। उनके साथ कर्नाटक मंत्रिमंडल का एक दल दिल्ली पहुंचा था, केरल में भी बारिश, बाढ़ की विनाशलीला जारी है। अब तक 104 लोगों की मौत हो चुकी है और 36 लोग लापता हैं।