कनेक्टिंग फ्लाइट छूटने पर एयरलाइन को देना पड़ सकता है 20,000 रुपये का हर्जाना

नई दिल्ली (19 अप्रैल): हवाई यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। अगर आप फ्लाइट में देरी या उसके कैंसल होने से कनेक्टिंग फ्लाइट नहीं पकड़ पाते तो हैं, तो उस एयरलाइन कंपनी को आपको 20,000 रुपये तक हर्जाना देना पड़ सकता है। एविएशन रेग्युलेटर डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन यानी DGCA ने यात्रियों के अधिकारों और जिम्मेदारियों को परिभाषित करने वाले पैसेंजर चार्टर में इसे शामिल करने का प्रस्ताव दिया है। 

इतना ही नहीं DGCA ने प्रस्ताव दिया है कि अगर किसी पैसेंजर को टिकट होने के बावजूद प्लेन में सवार होने नहीं दिया जाता है तो एयरलाइन को उसे 5,000 रुपये का मुआवजा देना होगा। कई बार फ्लाइट ओवरबुक होने पर पैसेंजर को बोर्डिंग की इजाजत नहीं दी जाती।