फ्लेक्सी फेयर पर फिर से विचार कर रहा है रेल

नई दिल्ली (2 फरवरी): रेलवे एकबार फिर से अपने फ्लेक्सी फेयर पर विचार कर रहा है। राज्यसभा में एक सवाल का जवाब देते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि फ्लेक्सी फेयर सिस्टम को डायनेमिक फेयर प्रणाली में तब्दील करने के बारे में मंत्रालय को रिपोर्ट मिली है. उन्होंने कहा कि इसमें समय और मांग के मुताबिक किराया निर्धारण करने की पुख्ता और व्यवहारिक प्रणाली तैयार की जा रही है। इसमें टिकट का किराया मांग और उपलब्धता के आधार पर कम और ज्यादा होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि इससे मुनाफा सुधारने में भी मदद मिलेगी। मंत्री ने कहा कि डायनमिक प्राइजिंग के अंतर्गत ऑफ सीजन में ही ट्रेन टिकिटों में छूट दी जा सकती है। 

प्रश्नकाल के दौरान, भाजपा सांसद राम विहार नेताम समेत कुछ सदस्यों ने फ्लेक्सी फेयर के संबंध में सवाल खड़े करते हुए कहा कि ऐसे कई मौके आए जब कीमतें बहुत उच्च स्तर तक बढ़ गई थीं। इस पर गोयल ने कहा कि एक समिति ने रिपोर्ट प्रस्तुत की है जिसमें कहा गया है कि किस तरह से ट्रेन टिकिटों की डायनमिक प्राइजिंग की जाती है। उन्होंने कहा कि इससे मुनाफा सुधारने में भी मदद मिलेगी। मंत्री ने कहा कि डायनमिक प्राइजिंग के अंतर्गत ऑफ सीजन में ही ट्रेन टिकिटों में छूट दी जा सकती है।