चीन ने बनाए ये 5 अजूबे, देखकर चौंक जाएंगे आप!

नई दिल्ली (18 अगस्त): दुनियाभर में कई ऐसे अजूबे हैं जिनके बारे में जानकर हैरत होती है। ऐसी जगहें लोगों को खूब लुभाती हैं। इनमें से कुछ को जहां इंसानों ने अपनी मेहनत बनाया है, वहीं कुछ को प्रकृति ने अपने अंदाज में गढ़ा है। ऐसे ही कुछ अजूबे हैं चीन में, जो यहां का प्रमुख टूरिस्ट अट्रैक्शन भी है। जानिए कौन से हैं ये अजूबे... 

हुनान प्रांत में शीशे के पुल

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=AeRSTGmapi8[/embed] - चीन के हुनान प्रांत में बना दुनिया का सबसे ऊंचा और लंबा शीशे का पुल  - 20 अगस्त से सैलानियों के लिए खोल दिया जाएगा  - शीशे का यह पुल 430 मीटर लंबा और 6 मीटर चौड़ा है।  - इसमें पारदर्शी शीशों की तीन परतें हैं।  - यह पुल जमीन से 300 मीटर ऊपर ब्रिज नेशनल पार्क की दो चोटियों के बीच बनाया गया है।  - डिजाइन और कंस्ट्रक्शन के मामले में ब्रिज 10 वर्ल्ड रिकॉर्ड बना चुका है। - पुल में तीन लेयर अल्ट्रा सुपर ट्रांसपेरेंट ग्लास लगाए गए हैं।  - ग्लास की मोटाई 15 मिलीमीटर और लंबाई 4.5 मीटर मीटर है। - कुल मिला कर 99 कांच के टुकड़ों को लगाया गया है।  - जुलाई में पुल की मजबूती परखने के लिए इस पर 2 टन की कार गुजारी गई। - इसके अलावा 30 लोगों को पुल पर हथौड़े मारने के लिए बुलाया था।  - लोगों ने साढ़े पांच किलो वजनी हथौड़े से ताबड़तोड़ वार किए।  - लेकिन शीशा नहीं टूटा, उस पर सिर्फ स्क्रैच आया। - यह पुल झांगजियाजी ग्रैंड कैनयन में बनाया गया है।  - हुनान प्रॉविन्स के साउथ-वेस्ट सिटी झांगजियाजी से 60 किलोमीटर दूर। - झांगजियाजी ग्रैंड कैनयन में जाने के लिए 1220 रुपए का टिकट लगता है। - पुल के शुरू होने के बाद इस पर जाने के लिए करीब 1400 रुपए का टिकट लगेगा।

बीजिंग में शीशे के प्लैटफॉर्म 

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=YQDp7u66TT4[/embed] - बीजिंग के पास एक पहाड़ी के किनारे पर लटकता हुआ कांच का प्लेटफॉर्म बनाया गया है।  - ताकि लोग जिंगडांग जंगल की खूबसूरती को देख सके।  - यह जमीन से 1300 फीट की ऊंचाई पर है, इसे आम लोगों के लिए खोल दिया गया।  - ये दुनिया का सबसे लंबा कांच का प्लेटफॉर्म है  - जो चट्टान के किनारे से 107 फीट तक बाहर निकला है।  - यह 4467 स्क्वेयर फीट एरिया में फैला हुआ है।  - इसमें टाइटेनियम का इस्तेमाल किया गया है।  - हल्का होने के साथ-साथ यह ज्यादा मजबूत होता है।  - अभी तक एविएशन इंडस्ट्री में इसका इस्तेमाल किया जाता रहा है।

शिन्युझाई नेशनल पार्क में शीशे का ब्रिज

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=EvMYk6kmKWM[/embed] - चीन के हुनान प्रांत में शीशे के बने ब्रिज पर महिलाओं का योग चर्चा का विषय रहा है। - ये ब्रिज पिंगजियांग काउंटी के शिन्युझाई नेशनल जियो-पार्क में पहाड़ियों के बीच बना है। - जमीन से 180 मीटर (594 फीट) की ऊंचाई पर ग्लास बॉटम वाले इस ब्रिज को सितंबर 2015 में पहले ही आम लोगों के लिए खोला गया था। - जिसने दुनियाभर का ध्यान आकर्षित किया था। यह पुल एकसाथ 800 लोगों का भार सहन कर सकता है। - पिछले साल नवंबर में भी 100 महिलाओं ने इस पुल पर योग कर एक नया रिकॉर्ड बनाया था। - इस प्रदर्शन के लिए खासतौर पर इस ब्रिज को चुनने के पीछे मकसद ज्यादा से ज्यादा लोगों का ध्यान खींचना था।

तियानमेन माउंटेन में कांच का अदर्श्य रास्ता

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=GRJxv48GyG4[/embed]

- तियानमेन माउंटेन पार्क में सीधी चट्टान के बीच बना कांच का अदर्श्य रास्ता। - तकरीबन 200 फीट (60 मीटर) लंबा है यह रास्ता।  - दुनिया के कोने-कोने से लोग इस स्काईवॉक के जरिए यहां की खूबसूरती को देखने आते हैं। - हालांकि, बहुत कम टूरिस्ट ही इस स्काईवॉक पर चलने की हिम्मत जुटा पाते हैं।  - 2.5 इंच मुटाई वाले इस कांच के रास्ते की चौड़ाई 3 फीट है। - यहां से तियानमेन माउंटेन पार्क का विहंगम नजारा देखने को मिलता है। - यहां आने वाले हर टूरिस्ट को स्काईवॉक पर चलने से पहले अपने जूते उतारने होते हैं। - ताकि कांच का यह रास्ता साफ और पारदर्शी बना रहे।

झिआंगजियाजी फॉरेस्ट पार्क में कांच के एलिवेटर

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=vLuzkUMCPeY[/embed] - 'हंड्रेड ड्रैगन स्काय लिफ्ट' नाम का ये एलिवेटर झिआंगजियाजी फॉरेस्ट पार्क के वुलिंगयुआन में खड़ी चट्टान के किनारे पर बनाया गया है। - इसे बनाने में 126 करोड़ रुपए की लागत आई। ये है दुनिया का सबसे ऊंचा ग्लास एलिवेटर। - कांच के एलिवेटर की ऊंचाई 326 मीटर है। - इस स्ट्रक्चर में तीन ग्लास एलिवेटर्स लगे हैं।  - हरेक एलिवेटर एक बार में 50 लोगों को 1,070 फीट की ऊंचाई तक ले जाने में कैपेबल है। - 1999 में इसे बनाना शुरु किया गया था, जो कि 2002 में पूरा हुआ।  - हालांकि, सुरक्षा कारणों से इसे बंद कर दिया गया था। लेकिन 2003 में इसे फिर से शुरू किया गया। - बता दें कि झिआंगजियाजी, 3670 स्क्वेयर मील का फॉरेस्ट पार्क है। - जिसे वर्ल्ड हेरिटेज साइट का दर्जा मिला हुआ है।  - यहां दुनिया का सबसे बड़ा ग्लास ब्रिज भी बनाया जा रहा है।  - 980 फीट की ऊंचाई पर बनाया जा रहा यह ब्रिज मई में शुरू किया जाएगा।