मुबंई: जन शताब्दी एक्सप्रेस को पटरी से उतारने की साजिश में 5 गिरफ्तार

नई दिल्ली ( 15 अप्रैल ): मुंबई के ठाणे में जन शताब्दी एक्सप्रेस को पटरी से उतारने की साजिश में पुलिस ने 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए पाचों आरोपी नशेड़ी हैं। पुलिस के मुताबिक पांचों ने रेल ट्रैक पर लोहे की रॉड रखने की बात कबूल कर ली है। मुंबई के ठाणे इलाके में दिवा स्टेशन के पास 24 जनवरी को एक बड़ा रेल हादसा टल गया था। इन्होंने मुंबई से सटे तलोजा जेल में बैठे आरोपी मौला मकनदार के कहने पर इन आरोपियों ने दो हजार की शर्त लगाई थी। पांचों लूट की तैयारी में थे तभी पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया।

इनका नाम दानिश शेख, सूरज भोसले, मोहम्मद शेख, नजीर सैय्यद आणि, जयेश पारे है। 24 जनवरी को मध्य रेलवे के दिवा स्टेशन के नजदीक रेलवे ट्रैक इन आरोपियों ने पुराना ट्रैक रखा था। उसी समय वहां से मुंबई मडगाव जनशताब्दी एक्सप्रेस गुजरने वाली थी, लेकिन समय रहते एक बड़ा हादसा टल गया था। फिलहाल इन आरोपियों को 17 अप्रैल तक पुलिस हिरासत में भेजा गया है। क्या यह आतंकी साजिश तो नही? इस पर पुलिस जांच कर रही है।

गौरतलब है कि करीब 3 महीने पहले मडगांव दादर जनशताब्दी एक्सप्रेस एक हादसे का शिकार होते-होते बची थी। रात करीब 10:30 बजे उस ट्रैक से गुजर रही ट्रेन के ड्राइवर ह ने दूर से ही पटरी पर रखी करीब 7 मीटर लंबी लोहे की रॉड देखकर ब्रेक मार दिये थे। उस वक्त ट्रेन में करीब 700 यात्री सवार थे और अगर हरीश सही वक्त पर ट्रेन को न रोक लेते तो बड़ा हादसा हो जाता।

दिवा के करीब इस ट्रेन के ट्रैक पर रखी यह रॉड 380 किलो की थी जो जानबूझकर पटरी पर रखी गई थी। यह मामला 24 जनवरी का है। उस वक्त सुरक्षा एजेंसियों ने भी रेलवे को गणतंत्र दिवस के मद्देनजर किसी आतंकी हमले के प्रति आगाह किया था।