शिवराज सिंह मुख्यमंत्री पद से दें इस्तीफा: कमलनाथ

नई दिल्ली ( 7 जून ): मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में आंदोलनकारी किसानों पर पुलिस फायरिंग में 5 किसानों की मौत के बाद राज्य में भारी हंगामे का मौहाल है। मंदसौर में गुस्साएं प्रदर्शनकारियों ने जगह-जगह तोड़फोड़ की, वहीं 8-10 वाहनों को आग के हवाले कर दिया। अब इस मामले पर जमकर राजनीति शुरू हो गई है।


किसानों पर पुलिस फायरिंग के मामले को लेकर कांग्रेस ने मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला है। कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि पैसों की बोली लगाई जा रही है ये शर्मनाक है। कमलनाथ ने कहा कि शिवराज सिंह को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना चाहिए। यह उनकी जिम्मेदारी है, और इसे पुलिस पर नहीं टालना होगा। कमलनाथ ने कहा कि इस मामले पर राजनीति बीजेपी कर रही है। राहुलजी किसानों के बीच जाकर उनका दुख बांटना चाहते थे, लेकिन उन्हें अनुमति नहीं दी गई।


कांग्रेस नेता कमलनाथ ने कहा कि 'मध्यप्रदेश में किसानों के साथ अन्याय हुआ है, मैं मंदसौर घटना की उचित जांच की मांग करता हूं।' सांसद कमलनाथ ने कहा कि लाशों पर बोली लगाई जा रही है। शर्म की बात है। 5 लाख, 10 लाख, 1 करोड़ की बात की।


अपनी फसलों के लिए सही दाम सहित 20 सूत्री मांगों को लेकर राज्य में पिछले 1 जून से किसान आंदोलन कर रहे थे। इसी दौरान मंदसौर में विरोध प्रदर्शन ने उग्र रूप ले लिया और यहां हुई गोलीबारी में 5 किसानों की मौत हो गई। चश्मदीदों ने पुलिस पर फायरिंग का आरोप लगाया है, हालांकि जिला प्रशासन ने किसानों के उग्र होने के बावजूद उन पर पुलिस फायरिंग से इनकार किया है। इस घटना के बाद प्रशासन ने इलाके में कर्फ्यू लगा दिया है, वहीं आप-पास के इलाकों में निषेधाज्ञा लागू कर दी गई और इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई थी।