News

पहली बार किसी भारतीय एयरबेस में दाखिल होंगे पाकिस्तानी अफसर

नई दिल्ली (26 मार्च): भारत ने पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले की जांच कर रही पाक की 5 अफसरों वाली ज्वाइंट इन्वेस्टिगेशन टीम को 7 दिन का वीजा दिया है। यह टीम 27 मार्च को भारत आएगी। पहली बार किसी आतंकी हमले की जांच से जुड़ी पाकिस्तान की कोई टीम आ रही है। यह पहला मौका होगा जब भारत के किसी एयरबेस पर पाकिस्तानी अफसरों की टीम विजिट करेगी।  

भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने 17 मार्च को सार्क देशों के मंत्रियों की बैठक में नवाज शरीफ के एडवाइजर सरताज अजीज से मुलाकात की थी। इसमें पाक टीम को पठानकोट एयरबेस जाने की इजाजत देने पर रजामंदी बनी थी। इस्लामाबाद में इंडियन हाई कमीशन के स्पोक्सपर्सन ने कहा- हमने पांच पाकिस्तानी अफसरों को वीजा जारी किया है। ये अफसर पठानकोट एयरबेस हमले से जुड़े सबूत लेने भारत जा रहे हैं। यह पहला मौका है जब पाकिस्तान के खुफिया और पुलिस अधिकारियों की टीम आतंकी हमले की जांच के लिए भारत आ रही है। 2 जनवरी को पठानकोट एयरबेस पर हमला हुआ था। इसमें भारत के सात जवान शहीद हुए थे। जबकि छह आतंकियों को मार गिराया गया था।

पाक मीडिया के मुताबिक, जेआईटी पठानकोट एयरबेस हमले में इस्तेमाल किए गए हथियारों की जांच करेगी। साथ ही, विक्टिम्स के बयान भी दर्ज करेगी। टीम की अगुआई पंजाब काउंटर टेररिज्म डिपार्टमेंट (सीटीडी) के एआईजी मुहम्मद ताहिर राय कर रहे हैं। इसके अलावा इंटेलिजेंस ब्यूरो के लाहौर स्थित डिप्टी डायरेक्टर जनरल मोहम्मद अजीम अरशद, आईएसआई के लेफ्टिनेंट कर्नल तनवीर अहमद, मिलिट्री इंटेलिजेंस के लेफ्टिनेंट कर्नल इरफान मिर्जा और गुजरांवाला सीटीडी के इन्वेस्टिगेटिंग अफसर शाहिद तनवीर शामिल हैं।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top