अमेरिका से पहली बार कच्चा तेल भारत आया

नई दिल्ली(2 अक्टूबर): सरकारी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कारपोरेशन के अमेरिका से खरीदे गए कच्चे तेल की पहली खेप सोमवार को इसके पारादीप रिफाइनरी पहुंच गई है। यह खेप ओडिशा के पारादीप बंदरगाह पर वेरी लार्ज क्रूड कैरियर पोत के जरिये पहुंची है। 

- आईओसी ने बीते जुलाई में अमेरिकी कच्चे तेल की खरीद की थी। पहली खेप के यहां पहुंचने के साथ ही अमेरिकी कच्चे तेल की भारत में भारी आपूर्ति शुरू होने का रास्ता भी खुल गया है।

-  उल्लेखनीय है कि आईओसी के बाद सार्वजनिक क्षेत्र की दूसरी तेल विपणन कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) भी अमेरिकी कच्चा तेल आयात करने का प्रयास कर रही हैं। 

- आईओसी से मिली जानकारी के मुताबिक 16 लाख बैरल -प्रति बैरल 158 लीटर- अमेरिकी कच्चे तेल से लदा वीएलसीसी पोत सोमवार को पारादीप बंदरगाह पर पहुंचा। केंद्र सरकार अमेरिका और कनाडा का कच्चा तेल अमेरिकी तटों से खरीदने के लिए सार्वजनिक कंपनियों को प्रोत्साहित कर रही है, क्योंकि सरकार इसे सस्ते विकल्प के तौर पर देखती है। 

-इंडियन ऑयल का कहना है कि पारादीप पर आये अमेरिकी कच्चे तेल का शोधन इसके पूर्वी तट के आसपास स्थित रिफाइनरियों, जैसे- पारादीप, हल्दिया, बरौनी और बोंगाइगांव में किया जाएगा। यह भी उल्लेखनीय है कि इंडियन ऑयल अमेरिका से कच्चा तेल खरीदने वाली पहली सरकारी कंपनी बन गई है।    - ऐसा इसलिए क्योंकि तेल उत्पादक देशों के संगठन ओपेक द्वारा कच्चे तेल के उत्पादन में कमी किये जाने के बाद पश्चिम एशिया में हेवी सोर क्रूड यानी हाई सल्फर क्रूड की कीमत बढ़ने लगी है।