भारत के लिए बने राफेल की पहली झलक, देखें वीडियो

                                                       image source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 14 नवंबर ): फ्रांस से हुई राफेल डील को लेकर देश में विवाद जारी है। इस बीच फाइटर जेट का फर्स्ट लुक जारी हुआ है। राफेल लड़ाकू विमान की ये तस्‍वीरें फ्रांस के इस्‍तरे-ली ट्यूब एयरबेस से सामने आई हैं। माना जा रहा है कि भारतीय वायुसेना के बेड़े में राफेल के शामिल होने से देश की हवाई ताकत में इजाफा होगा। इससे पहले मंगलवार को दसॉ एविएशन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों को नकारते हुए सफाई दी थी।

राफेल फाइटर विमान की कई ऐसी खासियत है, जो इसे दूसरे लडाकू विमानों से अलग बनाती है। दो इंजन वाला यह फाइटर जेट 2,130 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से उड़ सकता है। साथ ही यह अत्याधुनिक हथियारों से भी लैस रहेगा। इसके अलावा राफेल करीब 3700 किलोमीटर तक के टारगेट को भेद सकता है। ये फाइटर जेट 24,500 किलोग्राम तक वजन के साथ उड़ान भर सकते हैं और परमाणु हथियार ले जाने में भी सक्षम हैं। बता दें कि भारत और फ्रांस के बीच 36 राफेल फाइटर जेट की खरीद के लिए डील हुई थी। ये विमान 2019 से भारत आने शुरू हो जाएंगे।




इससे पहले फाइटर जेट को बनाने वाली कंपनी दसॉ एविएशन के सीईओ एरिक ट्रैपियर ने एक इंटरव्यू के दौरान डील को लेकर राहुल के सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया था। ट्रैपियर ने कहा, 'मैं झूठ नहीं बोलता। मैं पहले जो भी कहा और अब कह रहा हूं वह सच और सही है।' कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 2 नवंबर को आरोप लगाया था कि दसॉ ने नुकसान झेल रही अनिल अंबानी की कंपनी में 284 करोड़ रुपये निवेश किए हैं।