साल के अंत से रोज 1000 उड़ान भरेगी इंडिगो, बनेगी एशिया की पांचवीं सबसे बड़ी एयरलाइन

नई दिल्ली(7 नवंबर): इंडिगो एयरलाइन इस साल के अंत तक तक 1,000 दैनिक उड़ानों के संचालन की शुरुआत करेगी। यह उपलब्धि हासिल करने वाली यह एशिया की पांचवीं एयरलाइन होगी।

सेंटर फार एशिया पैसिफिक एविएशन (कापा) के सप्ताह के आंकड़ों के अनुसार रोजाना 1,000 से अधिक रवानगी उड़ानों का परिचालन करने वाली एशिया की पहली तीन एयरलाइंस चीन की हैं। चौथी आल निप्पन जापान की है। चाइना सदर्न एयरलाइंस प्रतिदिन 2,178 उड़ानों का परिचालन करती है। चाइना ईस्टर्न एयरलाइंस की उड़ानों की संख्या 2,083 है। एयर चाइना रोजाना 1,333 रवानगी उड़ानों का परिचालन करती है। जापान की राष्ट्रीय विमानन कंपनी आल निप्पन एयरवेज रोजाना 1,062 उड़ानों का परिचालन करती है। इंडिगो 23 दिसंबर को 1,000 दैनिक उड़ानों की उपलब्धि को हासिल करेगी।

इंडिगो के अध्यक्ष एवं पूर्णकालिक निदेशक आदित्य घोष ने कहा कि एक भारतीय के रूप में एक हजार दैनिक उड़ानों का रिकॉर्ड कायम करने की इंडिगो को खुशी है। जब हम इस मील के पत्थर के करीब पहुंच रहे हैं, हम अपना उत्साह नहीं छिपा सकते और अपने 10 लाख से ज्यादा ग्राहकों को धन्यवाद देते हैं, जिनके बिना यह सफर पूरा करना असंभव था।