50 साल में पहली बार अमेरिका से क्यूबा पहुंचा कर्मिशयल विमान

फ्लोरिडा (31 अगस्त): अमेरिका और क्यूबा में 50 साल के बाद पहली बार किसी कर्मिशयल फ्लाइट ने उड़ान भरी है। दोनों देशों के बीच कोल्ड वार के बाद यह पहला ऐसा कदम है।

मिली जानकारी के अनुसार, जेटब्लू फ्लाइट 386 ने दक्षिण फ्लोरिडा से उड़ान भरी। इस विमान में 150 यात्री सवार थे। आसमान में एक घंटे से भी कम उड़ने के बाद विमान में सफलतापूर्ण क्यूबा में लैंड कर लिया।

क्यों था दोनों देशों में विवाद... - क्यूबा उन गिने-चुने देशों में है जिसने पचास साल से अधिक समय गुज़ारने के बावजूद अमेरिका के आगे सिर नहीं झुकाया। - फिदेल कास्त्रो ने जब 1959 में क्रांति लाकर सत्ता संभाली तो अमेरिका ने क्यूबा इससे अपने राजनयिक संबंध तोड़ डाले। - कास्त्रो ने 1962 में सोवियत यूनियन को अपने देश में परमाणु मिसाइल लगाने की इजाज़त दी, जिससे अमेरिका और सोवियत यूनियन के बीच परमाणु मिसाइल जंग का खतरा पैदा हो गया। - फिदेल कास्त्रो की वामपंथी सरकार ने सभी निजी उद्योग, बैंकों और व्यापार का राष्ट्रीयकरण कर दिया, यानि सब कुछ सरकार की मिल्कियत बन गया। - अमेरिका ने फिदेल कास्त्रो और उनकी सरकार पर मानवाधिकारों के उल्लंघन, अपने सियासी प्रतिद्वंद्वियों को जेलों में बंद करने का इल्ज़ाम लगाया। - अमेरिका ने क्यूबा के खिलाफ हर तरह के प्रतिबंध लगा दिए जो आज तक जारी हैं।