देश में यहां पर बनेंगी पहली 20 स्मार्ट सिटीज

नई दिल्‍ली (28 जनवरी): केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने पहली 20 स्मार्ट सिटीज का ऐलान कर दिया है। नायडू के मुताबिक, कॉम्पिटीशन के आधार पर इन शहरों का सिलेक्शन हुआ है। इस लिस्ट में यूपी, बिहार और प. बंगाल जैसे राज्यों से एक भी शहर नहीं है। जबकि एमपी से तीन शहर इसमें शामिल हैं। मोदी सरकार ने पिछले साल अगस्त महीने में 97 ऐसे शहरों का नाम बताया था।

ये 20 सिटीज, जिन्हें फर्स्ट फेज में बनाया जाएगा स्मार्ट: 1. भुवनेश्वर 2. पुणे 3. जयपुर 4. सूरत 5. कोच्चि 6. अहमदाबाद 7. जबलपुर 8. विशाखापट्टनम 9. सोलापुर 10. दावणगेरे 11. काकीनाड़ा 12. नई दिल्ली, 13 इंदौर, 14. कोयम्बटूर,15. बेलगाम, 16. उदयपुर, 17. गुवाहाटी, 18. लुधियाना 19. चेन्नई 20. भोपाल

कैसे होगी प्रोजेक्ट फंडिंग और क्यों है स्मार्ट सिटीज पर फोकस:

फर्स्ट फेज में 20 और अगले हर दो साल में 40-40 शहरों को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के लिए सिलेक्ट किया जाएगा। हर स्मार्ट सिटी को अगले पांच साल तक केंद्र सरकार हर साल 100 करोड़ रुपए देगी। अरबन डेवलपमेंट मिनिस्ट्री के कॉन्सेप्ट नोट के मुताबिक, देश में अभी शहरी आबादी 31 फीसदी है, लेकिन इसकी भारत के जीडीपी में हिस्सेदारी 60 पर्सेंट से ज्यादा है। एक अनुमान है कि अगले 15 साल में शहरी आबादी की जीडीपी में हिस्सेदारी 75 पर्सेंट होगी। इस वजह से 100 स्मार्ट सिटीज बनाने का टारगेट रखा गया है।

सिलेक्शन के बाद क्या होगा? मंत्री के मुताबिक, सिलेक्ट शहरों को पहले साल 200- 200 करोड रुपए और बाद में तीन साल तक 100-100 करोड़ दिए जाएंगे। इस प्रोजेक्ट के लिए 48000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। स्पेशल प्रोजेक्ट बनाया गया है जिसमें केंद्र और स्टेट गवर्नमेंट की हिस्सेदारी रहेगी।