अब आपकी उंगली होगा आपका पासवर्ड, सरकार का बैंकों को निर्देश

नई दिल्ली (7 मार्च): अभी तक लोग डिजिटल फ्रांड के डर की वजह से कैश ट्रांजैक्शन नहीं करते, लेकिन अब केंद्र सरकार ने डिजिटल ट्रांजैक्शन को सुरक्षित बनाने के लिए सभी बैंकों से कहा है कि वे फाइनैंशल ट्रांजैक्शन्स के लिए फिंगरप्रिंट्स वाले 'आधार पे' को इस महीने के अंत तक लॉन्च करें।

इसके साथ ही सभी बैंकों से यह भी कहा गया है कि वे भीम ऐप में 'पे टू आधार' फीचर को 31 मार्च से पहले जोड़ लें। एसबीआई और पीएनबी को इसके लिए केवल इस हफ्ते का ही समय दिया गया है। भीम ऐप में इस फीचर के जुड़ जाने से पेमेंट केवल 12 अंकों के आधार नंबर डालने से हो जाएगी। इस के जरिए गरीब और ग्रामीण इलाकों में भी 'लेस कैश सिस्टम' को बढ़ावा दिया जा सकेगा। इसके जरिए अनपढ़ लोग भी बिना कैश के पेमेंट कर पाएंगे।

सरकार ने बैंकों को निर्देश दिया है कि वह जल्द से जल्द आधार और मोबइल नंबर के जरिए पेमेंट सिस्टम को

तैयार करे। जानकारों का मानना है कि 'आधार पे' सभी तरह के ऑनलाइन और कार्ड ट्रांजैक्शन्स की जगह ले

लेगा जिसमें पासवर्ड और पिन डालना जरूरी होता है।

कस्टमर को अपना आधार नंबर और बैंक का नाम बताना होगा (जिससे पैसे काटने हैं), फिंगरप्रिंट मैच होने के बाद पेमेंट हो जाएगी। सर्विस के इस्तेमाल के लिए कस्टमर को अपने बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ना होगा।

आधार पे किसी भी सस्ते ऐंड्रॉयड फोन पर भी काम कर सकता है।