यहां 25 रुपए में बनता है ड्राइविंग लाइसेंस

नई दिल्ली(12 मार्च): सड़क पर गाड़ी चलाने से पहले हर किसी के पास एक ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए। अगर आप बिना इस कागजात के सड़क पर गाड़ी लेकर निकल लिए तो ऐसे में आपको जुर्माना देना पड़ सकता है। इस ड्राइविंग लाइसेंस को बनाने के लिए लोगों को कई तरह के दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। पहले तो लोग यातायात विभाग में जाकर लाइसेंस बनवाने से कतराते हैं।

वहां लगने वाली लम्बी लाइनों और बर्बाद होने वाले समय के कारण लोग दलालों को लाइसेंस के लिए तय फीस से कई गुना ज्यादा पैसा देते हैं। अगर आप तोड़ा सा भी ध्यान दें तो इन सब चीजों से बच सकते हैं। ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) के लिए हर राज्य में यातायात एवं ट्रांसपोर्ट विभाग होता है। यही कार्यालय डीएल जारी करता है। हालांकि अलग-अलग राज्यों में लाइसेंस बनवाने के लिए नियम-कायदे और फीस एक जैसी नहीं है। सभी राज्यों में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अलग-अलग फीस रखी गई है जो आप राज्यों के आरटीओ की वेबसाइट पर जाकर पता कर सकते हैं।

देश की राजधानी दिल्ली में डीएल बनवाने के लिए महज 60 रुपए अदा करने होते हैं। हालांकि परमानेंट लाइसेंस और बड़े वाहनों को चलाने के लिए जरूरी लाइसेंस की फीस अलग-अलग है। उत्तर प्रदेश में आपको लर्निंग लाइसेंस के लिए 30 रुपए और परमानेंट लाइसेंस (स्मार्ट कार्ड) के लिए 200 होंगे। लर्निंग लाइसेंस बनवाने के लिए इस राज्य में आपको 60 रुपए और परमानेंट लाइसेंस बनवाने के लिए आपको 400 रुपए देने होंगे जो मोटरसाइकिल, स्कूटर, कार, जीप, ट्रैक्टर सभी के लिए मान्य होगा।

लर्निंग लाइसेंस के लिए आपको 25 रुपए देने पड़ेंगे और यदि आप टेस्ट फीस भी देते हैं तो मात्र 30 रुपए में ही आपका लर्निंग लाइसेंस बनकर तैयार हो जाएगा। इसके अलावा परमानेंट लाइसेंस (स्मार्टकार्ड) के लिए आपको 200 रुपए देने पड़ेंगे। पंजाब में लर्निंग लाइसेंस बनावाने के लिए आपको मात्र 30 रुपए देने होंगे और परमानेंट लाइसेंस के लिए 40 रुपए अदा करने पड़ेंगे। इसके अलावा यदि आप स्मार्टकार्ड लाइसेंस लेते हैं तो आपको इसके लिए 200 रुपए देने पड़ सकते हैं। एक वाहन श्रेणी के लर्निंग लाइसेंस के लिए फीस महज 30 रुपए है। ट्रायल फीस 50 रुपए और परमानेन्ट लाइसेंस के लिए फीस 200 रुपए है। इस तरह लर्निंग और परमानेन्ट की कुल फीस 280 रुपए है। हालांकि अगर एक से अधिक वाहन श्रेणी का लर्निंग लाइसेंस बनवाने के लिए 80 रुपए अतिरिक्त देने होंगे।