VIDEO: जिसमें पूरा सिस्टम हो जाता है फेल, वह कर रहा है मासूम रवि

नई दिल्ली (3 जुलाई): हैदराबाद के चौराहों पर एक छोटा सा बच्चा बड़ा सबक दे रहा है। जिस काम को करने में प्रदेश का पूरा सिस्टम फेल है, उसे एक छोटा बच्चा बिना किसी संसाधन के सिर्फ अपनी मां के लिए ली हुई सौगंध के जरिए पूरा कर रहा है।

रवि की कहानी माटी के दिए की कहानी है। आप हम रोज चौराहों पर ऐसे बच्चों को देखते हैं, मजबूर बच्चे लाल बत्ती पर रुके वाहनों वालों से दो रुपया मांग लेते हैं, हैदराबाद के चौराहों पर दिखने वाला रवि तेजा कभी आपसे कुछ नहीं मांगेगा। वो रोज भारी पत्थरों के टुकड़े इकट्ठे करता है। पैदल सड़कों पर चलता है और सड़क के गड्ढों को भरने के लिए ऐसे ही मेहनत करता है।

आपको बता दें कि रवि की मां की मौत एक गढ्डे में गिरने से हुई थी। जब मां की मौत हुई, रवि 12 साल का था। मां की मौत के बाद रवि ने शहर को गढ्डा मुक्त करने का संकल्प लिया है। रवि रोज पत्थर इकट्ठा करता है, सड़कों के गढ्ढे भरता है।

वीडियो: