हॉकी के नियमों में हुए ये बड़े बदलाव, विश्वकप में अब खेलेंगी इतनी टीमें

नई दिल्ली ( 25 दिसंबर ): हॉकी को लोगों को और ज्यादा लोकप्रिय बनाने के मकसद से इसके कई नियमों में बदलाव को अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ यानी एफआईएच के कार्यकारी बोर्ड ने मंजूरी दे दी है। अब हर स्तर पर हॉकी 15-15 मिनट के चार क्वार्टर के नियम को अनिवार्य कर दिया गया है। एफआईएच की टूर्नामेंट कमेटी ने आगामी हॉकी विश्वकप में विभिन्न बदलावों की सिफारिश की थी जिसे वैश्विक संस्था के कार्यकारी बोर्ड ने अपनी मंजूरी दे दी है।

1971 से शुरु हुए हॉकी विश्वकप में अब 12 की जगह 16 टीमें खेलती नजर आएंगी। फिलहाल जो फैसला लिया गया है वह 2018 और 2022 विश्वकप पर लागू होगा। नए नियमों के अनुरूप 16 टीमों को चार-चार टीमों के चार ग्रुप में बांटा जाएगा। इसके बाद ग्रुप में शीर्ष पर रही चार टीमें सीधे क्वार्टर फाइनल में पहुंच जाएंगी। वहीं अंतिम पायदान में रही टीमें प्रतियोगिता से बाहर हो जाएंगी।

इसके बाद चारों ग्रुप में दूसरे और तीसरे पायदान पर रही टीमों का मुकाबला होगा। इसके बाद बाकी की 4 क्वार्टर फाइनलिस्ट का निर्णय होगा। क्वार्टर फाइनल के बाद मुकाबले नॉकआउट आधार पर खेले जाएंगे। सबसे महत्वपूर्ण बात यह निकलकर सामने आई है कि एलिमिनेशन के समय टीम के प्रदर्शन के आधार पर उसकी रैंकिंग तय की जाएगी।