फीफा वर्ल्ड कप 2018: इंग्लैंड का सपना टूटा, पहली बार फाइनल में पहुंचा क्रोएशिया

न्यूज 24 ब्यूरो (12 जुलाई): फीफा वर्ल्ड कप 2018 अब अपने अंतिम पराव पर है। फुटबॉल विश्वकप के दूसरे सेमीफाइनल में क्रोएशिया ने इंग्लैंड को 2-1 से हराकर फाइनल में पहुंच गया है। रियो मांडजुकिक के अतिरिक्त समय में दागे गोल की बदौलत क्रोएशिया ने बुधवार देर रात इतिहास रच दिया। उसने फीफा विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ शुरुआत में ही पिछड़ने के बाद जोरदार वापसी की। इसके साथ ही इंग्लैंड की टीम का पांच से अधिक दशक बाद दूसरी बार फाइनल में जगह बनाने का सपना भी टूट गया। इंग्लैंड ने पहली और एकमात्र बार 1966 में फाइनल में जगह बनाई थी और तब अपनी सरजमीं पर खिताब जीतने में सफल रहा था। क्रोएशियाई टीम फाइनल में जगह बनाने में सफल रही, जहां उसका सामना 15 जुलाई को फ्रांस से होगा।


निर्धारित समय के बाद मैच 1-1 से बराबर था, जिसके बाद मांडजुकिक ने अतिरिक्त समय के दूसरे हाफ में 109वें मिनट में गोल दागकर क्रोएशिया को विश्व कप इतिहास में पहली बार फाइनल में जगह दिला दी। किरैन ट्रिपियर ने पांचवें मिनट में ही दमदार फ्री किक पर गोलकीपर डेनियल सुबेसिक को छकाते हुए इंग्लैंड को 1-0 से आगे कर दिया था, लेकिन इवान पेरिसिक (68वें मिनट) ने क्रोएशिया को दूसरे हाफ में बराबरी दिला दी।

विश्व कप सेमीफाइनल में 18 मौकों में यह सिर्फ दूसरी बार है, जब मध्यांतर तक बढ़त बनाने वाली टीम को हार का सामना करना पड़ा है, इससे पहले 1990 में इटली की टीम अर्जेंटीना के खिलाफ बढ़त बनाने के बावजूद पेनल्टी शूटआउट में हार गई थी। विश्व कप कप हतिहास में सिर्फ दूसरी बार सेमीफाइनल में खेल रही क्रोएशिया की टीम इससे पहले फ्रांस में 1998 में सेमीफाइनल में पहुंची थी और तब उसे मेजबान टीम के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। इंग्लैंड की टीम अब तीसरे स्थान के प्ले ऑफ में 14 जुलाई को सेंट पीटर्सबर्ग में बेल्जियम से भिड़ेगी। फाइनल इसी लुज्निकी स्टेडियम में  खेला जाएगा।