तुर्की में तख्तापलट के पीछे है यह शख्‍स

अंकारा (16 जुलाई): तुर्की में हुई तख्तापलट की कोशिश के पीछे मुस्लिम धर्मगुरु फेतुल्लाह गुलेन का नाम लिया जा रहा है। तुर्की सरकार के लॉयर रॉबर्ट एम्सटर्डम ने इस घटना से गुलेन का सीधा कनेक्शन बताया है। उस पर सेना के अफसरों को भड़काने का आरोप है।

हालांकि, गुलेन के आइडियाज को प्रमोट करने वाले अमेरिकी ग्रुप ने इन आरोपों से इनकार कर दिया है। कभी तुर्की प्रेसिडेंट का करीबी रहा गुलेन इस वक्त अमेरिका में रह रहा है। गुलेन पहले तुर्की प्रेसिडेंट रैचेप तैयाप एर्दोआन के करीबी हुआ करते थे, जो अब अपोजिट हो चुके हैं।

कौन है फेतुल्लाह गुलेन? - फेतुल्लाह गुलेन मुस्लिम धर्मगुरु है, जिसे 50 साल पहले इस्लाम को गलत तौर पर प्रचारित करने को लेकर नोटिस दिया गया था। - गुलेन पर लगातार तुर्की की सरकार के खिलाफ काम करने के आरोप लगते रहे। - गुलेन और उसके सपोर्टर्स ने मिलकर हिजमेत नाम का एक मूवमेंट शुरू किया। उसका 100 से ज्यादा देशों में करीब 1000 स्कूलों का नेटवर्क है। - इनके हॉस्पिटल, चैरिटी, बैंक और मीडिया का एक बड़ा एम्पायर है, जिसका अपना न्यूजपेपर, रेडियो और टीवी स्टेशन है। - गुलेन को पब्लिक के बीच में कम ही देखा जाता है और गैरमौजूदगी में उस पर तीन बार ट्रायल चल चुके हैं।